प्रकाश अंबेडकर ने सीएम शिंदे से की मुलाकात, दीक्षाभूमि हिंसा के आरोपियों को गिरफ्तार न करने की मांग

0
7

मुंबई, 5 जुलाई (आईएएनएस)। वंचित बहुजन आघाड़ी (वीबीए) के अध्यक्ष प्रकाश अंबेडकर ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने एक जुलाई को दीक्षाभूमि के पर हुई हिंसा और तोड़फोड़ के मामले के आरोपियों को गिरफ्तार न करने की मांग की। 

सीएम से मुलाकात के बाद अंबेडकर ने दावा किया,”मुख्यमंत्री ने नागपुर पुलिस आयुक्त से बात की है और किसी भी आरोपी को गिरफ्तार न करने का आश्वासन दिया है।”

नागपुर पुलिस ने दीक्षाभूमि के आसपास प्रस्तावित भूमिगत पार्किंग के विरोध में हिंसा भड़काने या उसमें शामिल होने वाले 15 से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। मामले में प्रदर्शन करने वालों का कहना था कि पार्किंग से दुनिया के सबसे बड़े खोखले स्तूप (गुंबद) की स्थिरता को खतरा पैदा हो सकता है।

हंगामे के बाद उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने संबंधित पक्षों के बीच आम सहमति होने तक पार्किंग स्थल के काम को रोकने का आदेश दिया था।

इस मुद्दे पर कांग्रेस के नाना पटोले, नितिन राउत, विजय वडेट्टीवार, शिवसेना (यूबीटी) के आदित्य ठाकरे, संजय राउत, सुषमा अंधारे, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एसपी) के जयंत पाटिल, जितेंद्र आव्हाड और अंबेडकर सहित कई विपक्षी नेताओं ने सरकार के कदम की आलोचना की थी।

नागपुर पुलिस ने जांच कर मामले में वीबीए नेताओं समेत 15 से अधिक लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

गौरतलब है कि दीक्षाभूमि पर ही भारतीय संविधान के निर्माता बी.आर. अंबेडकर ने 14 अक्टूबर, 1956 को अपने चार लाख से से अधिक अनुयायियों के साथ बौद्ध धर्म ग्रहण किया था। दलित समुदाय का इस स्थल से विशेष लगाव है।