जेम्स एंडरसन को है गेंदबाजी की लत: स्टुअर्ट ब्रॉड

0
7

लंदन, 7 जुलाई (आईएएनएस)। इंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन को ‘गेंदबाजी की कला का आदी’ बताया है। जेम्स एंडरसन 10 जुलाई से लॉर्ड्स में वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच के बाद टेस्ट करियर से विदा ले लेंगे।

जेम्स एंडरसन ने 2003 में इंग्लैंड के लिए डेब्यू किया था और वे 187 टेस्ट मैच खेल चुके हैं। इस साल की शुरुआत में एंडरसन शेन वार्न और मुथैया मुरलीधरन के बाद ऐसे तीसरे गेंदबाज बने जिन्होंने 700 टेस्ट विकेट हासिल किए। मार्च 2024 में इंग्लैंड की क्रिकेट टीम भारत दौरे पर आई थीऔर धर्मशाला में हुए पांचवें टेस्ट मैच में एंडरसन ने ये उपलब्धि (700 विकेट) हासिल की थी। वे टेस्ट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज हैं।

एंडरसन के साथ लंबे समय तक जुड़े रहे स्टुअर्ट ब्रॉड ने एक कॉलम में लिखा है कि एंडरसन चाहे आउट स्विंग, इन स्विंग या वॉबल सीम से गेंदबाजी कर रहे हों, उनको रन-अप की लय, बॉलिंग एक्शन की तकनीक पर नियंत्रण जैसे पक्ष पसंद हैं। जब आप लंबे समय तक खेलने वाले पेशेवरों के बारे में बात करते हैं, तो आप अक्सर ट्रेनिंग के प्रति उनके समर्पण, जिम में उनके अनुशासन और उनके खानपान के बारे में बात करते हैं।

ब्रॉड ने आगे कहा, “एंडरसन के बारे में खास बात गेंदबाजी के प्रति उनका सच्चा प्रेम है। किसी चीज की लत होने की बात करना वैसे तो एक नकारात्मक शब्द है, लेकिन मैं कहूंगा कि एंडरसन को अपनी गेंदबाजी की कला की लत है।”

ब्रॉड ने पिछले साल ओवल में अंतिम टेस्ट मैच खेलने के बाद क्रिकेट के तीनों प्रारूपों से संन्यास ले लिया था, वे एंडरसन के साथ 138 मैचों में नई गेंद से गेंदबाजी कर चुके हैं। उनको लगता है कि टेस्ट मैचों में एंडरसन की रिवर्स स्विंग कराने की क्षमता को काफी कमतर आंका गया है।

ब्रॉड ने कहा, “एंडरसन को उनकी रिवर्स स्विंग के लिए पर्याप्त श्रेय नहीं मिला है, जो उपमहाद्वीप में उनके बेहतरीन रिकॉर्ड में काफी अहम रही है। उनकी लाइन-लेंथ के कारण वो और भी घातक बन जाती है। डेल स्टेन जेम्स एंडरसन से ज्यादा तेज थे, लेकिन जेम्स निश्चित तौर पर बेस्ट रिवर्स स्विंग बॉलर हैं जिनको मैंने देखा है।”