राजनीतिक दलोंं ने की पाकिस्तान में मोबाइल सेवाओं के निलंबन की निंदा

0
18

इस्लामाबाद, 8 फरवरी (आईएएनएस)। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ सहित राजनीतिक दलों ने गुरुवार को 12वें आम चुनाव के लिए मतदान के दौरान मोबाइल सेवाओं को निलंबित करने की निंदा की है।

एक्स पर एक पोस्ट में, पीटीआई ने कहा, “पाकिस्तानियों, नाजायज, फासीवादी शासन ने मतदान के दिन पूरे पाकिस्तान में सेल फोन सेवाओं को अवरुद्ध कर दिया है। आप सभी से अनुरोध है कि अपने व्यक्तिगत वाईफाई खातों से पासवर्ड हटाकर इस कायरतापूर्ण कृत्य का मुकाबला करें।”

अपना वोट डालने के बाद मीडियाकर्मियों से बात करते हुए जमात-ए-इस्लामी (जेआई) नेता हाफिज नईमुर रहमान ने कहा, “मोबाइल सेवाएं बंद करना कराची की 250 मिलियन आबादी के साथ बहुत बड़ा अन्याय है।”

डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा कि देश में मोबाइल फोन सेवाएं तुरंत बहाल की जानी चाहिए।

बिलावल ने कहा कि उन्होंने पार्टी से इस संबंध में चुनाव आयोग और अदालतों का दरवाजा खटखटाने को कहा है।

बंद के कारण लाहौर में ईसीपी की निगरानी प्रणाली और शिकायत कक्ष भी प्रभावित हुआ।

हालांकि, देश के आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि सुरक्षा खतरों के कारण मोबाइल सेवाएं निलंबित की गई हैं।

कॉमनवेल्थ ऑब्जर्वर ग्रुप के प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि वोटिंग इंटरनेट से ज्यादा महत्वपूर्ण है।

ग्रुप के अध्यक्ष गुडलक एबेले जोनाथन ने कहा कि मतदान प्रक्रिया में इंटरनेट की जरूरत नहीं है।