अरुणाचल प्रदेश में लगातार तीसरी बार भाजपा सरकार बननी तय

0
6

ईटानगर, 2 जून (आईएएनएस)। अरुणाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव की जारी मतगणना में राज्य में लगातार तीसरी बार भाजपा की सरकार बननी तय हो चुकी है।

भाजपा 60 सदस्यीय विधानसभा की 10 सीटों पर पहले ही निर्विरोध जीत चुकी थी। इसके अलावा अब तक घोषित 20 सीटों के परिणामों में 17 उसके खाते में आ चुकी है। इस प्रकार वह 27 सीटों पर विजय हासिल कर चुकी है जबकि रुझानों में 19 अन्य सीटों पर पार्टी के उम्मीदवार आगे चल रहे हैं।

लुमला, चयांगताजो, सेप्पा (ईस्ट), पालिन, कोलोरियांग, दापोरिजो, रागा, दुमपोरिजो, अलांग (वेस्ट), दाम्बुक, तेजू, चांगलॉन्ग (साउथ), चांगलॉन्ग (नॉर्थ), नामसांग, खोंसा (वेस्ट), बोर्दुरिया-बोगापानी और पोंगचाऊ-वक्का सीटों पर उसके उम्मीदवारों को विजयी घोषित किया गया है।

इसके अलावा नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीईपी) दो सीट जीत चुकी है और तीन पर आगे है। पीपुल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल ने एक सीट जीती है और एक पर उसका उम्मीदवार आगे है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी तीन सीटों पर आगे है। खोंसा ईस्ट सीट निर्दलीय वांग्लाम सविन ने जीत ली है जबकि एक और सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार बढ़त बनाए हुए है।

विपक्षी कांग्रेस ने 19 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे, लेकिन अब तक की गिनती में वह कहीं भी जीतती नहीं दिख रही है।

भाजपा उम्मीदवारों के 10 सीटों पर निर्विरोध चुने जाने के बाद राज्य की शेष 50 विधानसभा सीटों के लिए 19 अप्रैल को मतदान हुआ था।

निर्विरोध चुने जाने वालों में मुक्तो सीट से मुख्यमंत्री पेमा खांडू, चौखम से उप मुख्यमंत्री चौना मीन, ईटानगर से पार्टी के वरिष्ठ नेता टेकी कासो, टलीहा से न्यातो दुकम और रोइंग सीट से मुचू मिथी शामिल हैं।

अरुणाचल प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल आज 2 जून को समाप्त हो रहा है।

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी पवन कुमार सैनी ने बताया कि वोटों की गिनती सुबह छह बजे सभी 24 केंद्रों पर एक साथ शुरू हुई। पोस्टल बैलट की गिनती पूरी होने के बाद ईवीएम के वोटों की गिनती शुरू की गई।

राज्य की 50 विधानसभा सीटों पर 133 उम्मीदवार मैदान में थे जबकि दो लोकसभा सीटों पर 14 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हो चुकी है।

दोनों लोकसभा सीटों के लिए मतों की गणना 4 जून को देश की अन्य लोकसभा सीटों के साथ ही होगी।