नेता प्रतिपक्ष आर अशोक ने भरी हुंकार, कहा- सिद्दारमैया सरकार को सत्ता से उखाड़ फेंकेंगे

0
23

बेंगलुरु, 12 फरवरी (आईएएनएस)। कर्नाटक विधानसभा में विपक्ष के नेता आर अशोक ने सोमवार को कहा कि उनकी पार्टी कांग्रेस सरकार को बाहर करने के लिए संघर्ष करेगी।

पत्रकारों से बात करते हुए विपक्ष के नेता आर अशोक ने कहा, ”हम जमीन से लेकर सदन तक कांग्रेस की सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए व्यापक स्तर पर संघर्ष की शुरुआत करेंगे। कर्नाटक सरकार कंलकित हो चुकी है। राज्य ठेकेदार संघ के अध्यक्ष डी. केम्पन्ना, जिन्होंने पिछली भाजपा सरकार पर कमीशनखोरी का आरोप लगाया था और सीएम सिद्दारमैया ने उन्हें सत्यवादी हरिश्चंद्र बताया था, उन्हीं ने कांग्रेस सरकार पर टेंडरों में 40 फीसदी लूटने का आरोप लगाया है।”

उन्होंने कहा, ”मौजूदा सरकार किसानों के साथ ठगी कर रही है। किसानों को फंड मुहैया नहीं कराया जा रहा है। राज्य में पेयजल की गंभीर समस्या बनी हुई है, लेकिन तमिलनाडु के मित्रों को लुभाने के लिए राज्य का पानी उन लोगों को दे दिया गया। बेंगलुरु, मैसूरु और मांड्या में पानी का गंभीर संकट बना हुआ है। हम आगामी दिनों में इस मुद्दे को विधानसभा में उठाएंगे।”

अशोक ने आरोप लगाया, ”जबसे सिद्दारमैया की सरकार सत्ता में आई है, तभी से राज्यभर में सूखा है। पेयजल संकट अपने चरम पर है। खजाना भी खाली हो चुका है, क्योंकि राज्य के कोष का 40 फीसदी हिस्सा कांग्रेस के नेता अपने जेब में ले चुके हैं।”

बता दें कि भगवा शॉल ओढ़कर बीजेपी विधायक विधानसभा सत्र में शामिल हुए। पार्टी सूत्रों ने कहा कि इसका उद्देश्य राज्य में सीएम सिद्दारमैया के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार की कथित “हिंदू विरोधी नीति” की निंदा करना था।

गवर्नर के संबोधन के बाद बीजेपी विधायकों ने ‘जय श्री राम’ के नारे लगाए, जिसके बाद कांग्रेस विधायकों ने भी ‘जय श्री राम’ के नारे लगाने शुरू कर दिए।