गृहमंत्री अमित शाह बोले : लोकसभा चुनाव में भाजपा राजस्थान में हैट्रिक लगाएगी

0
8

जयपुर, 1 अप्रैल (आईएएनएस)। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आगामी लोकसभा चुनाव में 70 प्रतिशत वोटों के साथ सभी 25 सीटें जीतकर राजस्थान में जीत की हैट्रिक दर्ज लगाएगी।

जयपुर में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, “लोकतंत्र को नहीं, बल्कि भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए इंडिया गठबंधन एकजुट हो गया है।”

केंद्रीय मंत्री ने राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह निर्वाचन क्षेत्र में भी कई मुद्दों पर दिग्गज कांग्रेस नेता पर निशाना साधा।

जोधपुर में शक्ति केंद्र प्रमुख सम्मेलन को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ”न तो गहलोत और न ही सोनिया गांधी को आम लोगों की समस्याओं की चिंता है।”

उन्होंने कहा, “अशोक गहलोत अपने बेटे को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं। सोनिया गांधी अपने बेटे को प्रधानमंत्री बनाना चाहती हैं। उन्हें आम लोगों की चिंता नहीं है।”

शाह ने पिछले 10 वर्षों में भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार द्वारा किए गए कार्यों के बारे में भी बात की और अशोक गहलोत को काम के मोर्चे पर बहस में भाग लेने के लिए तैयार रहने की चुनौती दी।

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, “अशोक गहलोत जी, यदि आप स्वतंत्र हैं… तो मेरे प्रश्‍न का उत्तर दें। मैंने आज हमारे द्वारा किए गए कार्यों का विवरण सार्वजनिक रूप से दिया है। अब आप अपने कार्यों पर चर्चा के लिए बहस की तारीख तय कर सकते हैं, मैं अपने युवा मोर्चा अध्‍यक्ष को इस पर चर्चा करने के लिए भेजूंगा।”

पेयजल और सिंचाई कार्यक्रम – पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना (ईआरसीपी) के बारे में गहलोत पर कटाक्ष करते हुए शाह ने कहा : “जब मैंने ईआरसीपी का वादा किया था, तो हर कोई हंस रहा था… अशोक गहलोत पूछ रहे थे कि इसे कैसे लागू किया जाएगा? गहलोत जी, भजनलाल शर्मा पहली बार मुख्यमंत्री बने हैं और पांच महीने के अंदर ही उन्होंने ईआरसीपी की ओर कदम बढ़ा दिया है।”

केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भी आलोचना करते हुए कहा कि राहुल को लोकतंत्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है।

शाह ने कहा, “वे लोकतंत्र को बचाने की बात कर रहे हैं। राहुल गांधी, आपकी दादी ने आपातकाल के दौरान लाखों लोगों को जेल में डाल दिया था और राजनीतिक दलों पर प्रतिबंध लगा दिया था। आपको लोकतंत्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है।”

आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ रैली में कांग्रेस के शामिल होने पर टिप्पणी करते हुए शाह ने फिर से राहुल गांधी की आलोचना करते हुए कहा : “कल, उन्होंने कहा ‘लोकतंत्र बचाओ’। क्यों? लोकतंत्र का क्या हुआ? आप लोकतंत्र बचाने की बात क्यों कर रहे हैं? अगर 12 लाख करोड़ रुपये का घोटाला करेंगे तो जेल जाएंगे या नहीं? आप शिकायत क्यों कर रहे हैं? हमने 2014 और 2019 में चुनाव लड़ा था और कहा था कि जो भी भ्रष्टाचार करेगा, वह सलाखों के पीछे जाएगा। यहां भी (राजस्थान में) पेपर लीक मामले में भ्रष्टाचार करने वालों को जेल में डाल दिया गया।”

आगे विपक्षी नेताओं पर हमला करते हुए शाह ने कहा : “लालू यादव अपने बेटे को सीएम बनाना चाहते हैं, उद्धव ठाकरे अपने बेटे को सीएम बनाना चाहते हैं, ममता बनर्जी अपने भतीजे को सीएम बनाना चाहती हैं और एम.के. स्टालिन अपने बेटे को सीएम बनाना चाहते हैं। क्या जो अपने बेटे, बेटी, बहू और भतीजे के बारे में सोचता है, वह भारत के युवाओं के बारे में सोच सकता है? केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा ही भारत के युवाओं के लिए सोचते हैं।”