केरल कांग्रेस के अध्यक्ष के रूप में के. सुधाकरन के लौटने पर अटकलें जारी

0
8

तिरुवनंतपुरम, 7 मई (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव के लिए केरल कांग्रेस के अध्यक्ष पद से अस्थायी तौर पर इस्तीफा देने के बाद अब फिर से के. सुधाकरन के पद ग्रहण करने की अटकलें लगने लगी हैं। ऐसी चर्चा है कि उन्हें अध्यक्ष का पद दोबारा संभालने से पहले कुछ समय और इंतजार करने के लिए कहा गया है।

पार्टी ने सुधाकरन को अपनी कन्नूर लोकसभा सीट पर ध्यान केंद्रित करने को कहा था। उनकी जगह वरिष्ठ नेता नेता एम.एम. हसन को कार्यवाहक अध्यक्ष बनाया गया।

राज्य में 26 अप्रैल को दूसरे दौर का चुनाव संपन्न होने के बाद मीडिया के एक वर्ग में ऐसी खबरें आईं कि सुधाकरन को चार जून को मतगणना होने तक इंतजार करने को कहा गया है।

हालांकि, सुधाकरन ने कहा कि वह कभी भी पद पर लौट सकते हैं और यह उनकी पसंद है। उन्होंने कन्नूर में मीडियाकर्मियों से कहा, “कोई मुद्दा नहीं है, क्योंकि मैं अध्यक्ष हूं। अपनी सुविधा के अनुसार मैं लौटूंगा और रजिस्टर पर हस्ताक्षर करूंगा।”

इस बीच, सूत्रों ने बताया कि पिछले हफ्ते सुधाकरन उस समय नाराज हो गए थे, जब राज्य पार्टी मुख्यालय में लोकसभा चुनावों की समीक्षा के दौरान उन्हें अपने पद पर लौटने के लिए इंतजार करने को कहा गया।

लेकिन जब उन्होंने कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व के साथ इस मुद्दे को उठाया, तो उन्हें पदभार संभालने के लिए कहा गया। मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों से पता चला कि वह बुधवार से अध्यक्ष के रूप में फिर से कार्यभार संभालेंगे।

पार्टी का एक वर्ग सुधाकरन की कार्यशैली से खुश नहीं है और उन्होंने उन्हें इंतजार कराने की पूरी कोशिश की। अब सभी की निगाहें चार जून पर टिकी हैं कि सुधाकरन का प्रदर्शन कैसा रहता है। खबरों के मुताबिक, उन्हें कन्नूर में सीपीआई-एम नेता एम.वी.जयराजन के खिलाफ कड़े मुकाबले का सामना करना पड़ा है।

इस बारे में पूछे जाने पर सुधाकरन ने कहा, “कन्नूर में मेरी जीत में कोई संदेह नहीं है।”