महाराष्ट्र में विपक्ष के नेता विजय वडेट्टीवार की स्पीकर से मांग, विधायकों की समिति दीक्षाभूमि स्थल पर भेजें

0
8

मुंबई, 2 जुलाई (आईएएनएस)। महाराष्ट्र सरकार ने विरोध के बाद सोमवार को नागपुर की दीक्षाभूमि पर मरम्मत कार्य पर रोक लगा दी। इसके बाद विपक्ष के नेता (एलओपी) विजय वडेट्टीवार ने मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर से आग्रह किया कि वे सत्ताधारी और विपक्षी विधायकों की एक समिति को स्थल पर भेजें और स्थिति का जायजा लें।

विजय वडेट्टीवार ने कहा कि समिति स्थल का निरीक्षण करेगी और संबंधित लोगों से बातचीत के बाद समाधान सुझाएगी।

कांग्रेस विधायक नितिन राउत ने कहा कि सोमवार को हुए आंदोलन को टाला जा सकता था, यदि वह जिला कलेक्टर के साथ दीक्षाभूमि का दौरा कर लेते और नवीनीकरण कार्य के खिलाफ प्रदर्शनकारियों के विचारों को समझ लेते। वडेट्टीवार और राउत दोनों ने मंगलवार को प्रश्नकाल रद्द करने के बाद इस मुद्दे पर चर्चा के लिए नोटिस दिया था।

सोमवार को दीक्षाभूमि पर आंदोलन के दौरान पहुंचे विजय वडेट्टीवार ने सदन को बताया कि विरोध प्रदर्शन तेज होने के बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

उन्होंने कहा, “जमीनी हालात को देखते हुए मैं आपसे (अध्यक्ष से) अनुरोध करता हूं कि सत्ताधारी और विपक्षी सदस्यों की एक समिति वहां भेजें, ताकि आगे इस तरह का स्थिति न बने।”

हालांकि, विधानसभा अध्यक्ष ने प्रश्नकाल रद्द करने के लिए वडेट्टीवार और राउत के नोटिस के खिलाफ फैसला सुनाया। उन्होंने कहा कि उपमुख्यमंत्री पहले ही जीर्णोद्धार (मरम्मत) कार्य पर रोक लगाने का ऐलान कर चुके हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार ने दीक्षाभूमि जीर्णोद्धार समिति के साथ नए सिरे से बातचीत करने और जरूरी बदलाव करने का भी ऐलान किया है।