भारतीय जूनियर पुरुष हॉकी टीम ने शूटआउट में जर्मनी को हराया

0
10

ब्रेडा (नीदरलैंड), 30 मई (आईएएनएस)। भारतीय जूनियर पुरुष हॉकी टीम ने जर्मनी के खिलाफ शूटआउट में जीत दर्ज की, जबकि जूनियर महिला टीम ने ओरांजे रूड के खिलाफ ड्रॉ के साथ अपना यूरोप दौरा समाप्त किया।

बुधवार को यह मुकाबला 1-1 से बराबर रहने के बाद पुरुष टीम ने पेनल्टी शूटआउट में 3-1 से जीत हासिल की। इससे पहले नियमित समय में मुकेश टोप्पो ने 33वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर रिबाउंड पर गोल किया।

जूनियर महिला टीम के लिए, संजना होरो (18′) और अनीशा साहू (58′) ने डच क्लब ओरांजे रूड के साथ 2-2 से बराबरी पर गोल किये।

पहले हाफ तक न तो भारतीय जूनियर पुरुष और न ही जर्मनी गोल करने में सफल रहे। हालांकि, मुकेश टोप्पो (33′) ने तीसरे क्वार्टर की शुरुआत में पेनल्टी कॉर्नर पर रिबाउंड पर गोल किया।

भारतीयों ने अपनी बढ़त तब तक बनाए रखी जब तक कि जर्मनी ने चौथे क्वार्टर में चार मिनट बाद बराबरी नहीं कर ली, जिससे मैच में रोमांच बढ़ गया।

दोनों टीमों के बढ़त लेने के प्रयासों के बावजूद, निर्धारित समय के अंत में स्कोर बराबरी पर रहा, जिसके कारण पेनल्टी शूटआउट हुआ।

भारत ने शूटआउट 3-1 से जीता, जिसमें गुरजोत सिंह, दिलराज सिंह और मनमीत सिंह ने गोल किए। उन्होंने अपने अंतिम मैच में जीत के साथ यूरोप के अपने दौरे का समापन किया।

इस बीच, जूनियर महिला टीम ने ओरांजे रूड के खिलाफ एक धीमा पहला क्वार्टर खेला।

दूसरे क्वार्टर की शुरुआत में संजना (18′) ने भारत के लिए गोल कर गतिरोध को तोड़ा। ओरांजे रूड ने दो पेनल्टी कॉर्नर अर्जित करते हुए अच्छा जवाब दिया, लेकिन भारतीय डिफेंस ने मजबूती से पकड़ बनाए रखी और पहला हाफ भारत के पक्ष में 1-0 से समाप्त हुआ।

तीसरे क्वार्टर में ओरांजे रूड ने पहल की। ​​गोल की तलाश में ओरांजे रूड ने भारत को बैकफुट पर धकेला और तीन पेनल्टी कॉर्नर अर्जित किए और दो बार गोल करके 2-1 की बढ़त हासिल की।

​​भारतीय जूनियर महिला हॉकी टीम ने आखिरी क्वार्टर में स्कोर बराबर करने का प्रयास किया, लेकिन अंतिम क्षणों में अनीशा (58′) ने गोल करके मैच को 2-2 से बराबर कर दिया।