हमास ने जारी किया विस्फोटक तैयार करते सदस्यों का वीडियो

0
51

गाजा, 1 जुलाई (आईएएनएस)। इस्लामिक रेजिस्टेंस मूवमेंट (हमास) की सशस्त्र शाखा अल-कस्साम ब्रिगेड ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उसके सदस्य गाजा पट्टी के शहरों में घुसने वाले इजरायली सैन्य वाहनों के खिलाफ इस्तेमाल के लिए विस्फोटक डिवाइस तैयार करते दिख रहे हैं।

चालीस सेकंड के इस वीडियो में समूह के सदस्य डिवाइस को पेंट करते और उन्हें पोर्टेबल बैग में रखते हुए दिख रहे हैं। ये बैग काले कपड़े से ढके हुए हैं जिस पर लिखा है: “जो मेरी मौत चाहता है, वह मृगतृष्णा … और (ऑपरेशन) अल-अक्सा फ्लड का पीछा कर रहा है”।

समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने रविवार को बताया कि अल-क़स्साम ने पिछले अक्टूबर से गाजा में इजरायली सेना के साथ चल रहे युद्ध के दौरान पहली बार “फिदायीन ऑपरेशन” डिवाइस के इस्तेमाल की घोषणा की है।

वीडियो जारी होने से पहले अल-क़स्साम और इस्लामिक जिहाद आंदोलन की सैन्य शाखा अल-कुद्स ब्रिगेड ने रविवार को पूर्वी गाजा शहर के शुजैया मोहल्ले और शहर के दक्षिण में ताल अल-हवा मोहल्ले में इजरायली वाहनों और सैनिकों को निशाना बनाने का दावा किया था।

अल-क़स्साम ने एक बयान में कहा कि उसके सदस्यों ने ताल अल-हवा के दक्षिण में “यासिन 105 रॉकेट से एक इजरायली नामर एपीसी (सैनिकों को ले जाने वाले बख्तरबंद वाहन) को नष्ट कर दिया, जिसमें उसके चालक दल के सदस्य हताहत हुए हैं।”

अल-कुद्स ब्रिगेड ने एक अलग बयान जारी कर दावा किया कि उसके सदस्यों ने ताल अल-हवा में “शेजारेट एपीसी और एक डी9 सैन्य बुलडोजर” को भी निशाना बनाया।

एक अन्य प्रेस विज्ञप्ति में उसने कहा कि इसके सदस्यों ने “शुजैया में इजरायली सैनिकों पर मोर्टार से हमला किया”।

हमास ने 7 अक्टूबर 2023 को दक्षिणी इजरायली सीमा के भीतर घुसकर बड़ा हमला किया जिसमें लगभग 1,200 लोग मारे गए और 200 से अधिक बंधक बनाए गए। उसके बाद से गाजा में हमास के खिलाफ इजरायल की जवाबी कार्रवाई जारी है।