हार्मोनल जन्म नियंत्रण के उपायों से बढ़ सकता है अवसाद व आत्महत्या का खतरा : मस्क

0
128

नई दिल्ली, 17 मार्च (आईएएनएस)। अरबपति एलन मस्क ने रविवार को महिलाओं के स्वास्थ्य को समझने की जरूरत पर जोर देते हुए कहा कि हार्मोनल जन्म नियंत्रण का उपयोग करने से अवसाद और आत्महत्या का खतरा बढ़ सकता है।

मस्क ने एक्स पर एक पोस्ट में लिखा, “यह महत्वपूर्ण है कि महिलाएं हार्मोनल जन्म नियंत्रण के प्रभावों को जानें, क्योंकि यह अवसाद का एक महत्वपूर्ण कारण है और आत्महत्या के खतरे को बढ़ाता है।”

स्पेसएक्स के संस्थापक ने कहा कि “जन्म नियंत्रण के अन्य उपायों में ये प्रभाव नहीं होते हैं।”

उन्होंने अमेरिकी टेलीविजन कमेंटेटर और लेखक एशले सेंट क्लेयर की एक्स पोस्ट को साझा करते हुए अपनी बात कही।

उन्होंने पोस्ट में लिखा,”मैंने कभी भी हार्मोनल जन्म नियंत्रण के उपायों का इस्तेमाल नहीं किया। इसका गंभीर दुष्प्रभाव होता है। यह अवसाद और आत्महत्या के खतरेे को बढ़ा़ता है।”

उन्होंने कहा,“जब महिलाएं इन लक्षणों के बारे में अपने डॉक्टरों से बात करती हैं, तो डॉक्टर गोली बंद करने या वैकल्पिक व गैर-हार्मोनल जन्म नियंत्रण का उपाय अपनाने का आम तौर पर सुझाव नहीं देते हैं।”

गौरतलब है कि कई अध्ययनों ने भी हार्मोनल जन्म नियंत्रण के साथ अवसाद के खतरे की ओर इशारा किया है, हालांकि, अभी भी पर्याप्त शोध की कमी है।