आईएमएफ ने पाकिस्‍तान की अंतरिम सरकार के प्रस्तावों को लेकर नरम रुख अपनाया

0
35

इस्लामाबाद, 6 फरवरी (आईएएनएस)। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने औद्योगिक बिजली की कीमतों को कम करने, सर्कुलर ऋण के पांचवें हिस्से का निपटान करने और पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन (पीआईए) के 268 अरब रुपये का कर्ज चुकाने के पाकिस्तान की अंतरिम सरकार के प्रस्तावों का समर्थन नहीं किया है, जो सार्वजनिक ऋण का हिस्सा है। यह जानकारी मीडिया की खबरों में दी गई।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट में सरकारी सूत्रों के हवाले से कहा गया कि आईएमएफ ने यह भी पूछा कि अंतरिम सरकार जल्दबाजी क्यों दिखा रही है, जब पाकिस्तान चुनाव आयोग (ईसीपी) ने पहले ही उसे पीआईए के निजीकरण पर कोई निर्णायक कार्रवाई करने से रोक दिया है।

वैश्विक ऋणदाता ने तीन प्रमुख प्रस्तावों की आर्थिक और कानूनी व्यवहार्यता के बारे में अधिक जानकारी मांगी। आईएमएफ ने लगातार दो आभासी बैठकें कीं, लेकिन उनके नतीजे पाकिस्तानी अधिकारियों की उम्मीदों से कम रहे।

इन प्रस्तावों पर अगले दौर की चर्चा पाकिस्तानी अधिकारियों द्वारा अतिरिक्त जानकारी उपलब्ध कराने और वैश्विक ऋणदाता द्वारा आंतरिक रूप से इसकी समीक्षा करने के बाद होगी।

आईएमएफ ने तीनों प्रस्तावों को न तो खारिज किया और न ही स्वीकार किया।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, इन दो बैठकों से यह बात सामने आई कि निर्वाचित सरकार के कार्यभार संभालने के बाद आईएमएफ इस पर और अधिक गंभीरता से विचार करेगा।

कार्यवाहक सरकार कार्यालय छोड़ने से पहले तीन प्रस्तावों को लागू करने की इच्छुक है।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, ये बैठकें इस गुरुवार को होने वाले आम चुनावों से ठीक तीन दिन पहले पाकिस्तानी अधिकारियों के अनुरोध पर हुईं।