संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत को स्थायी सीट न मिलना ‘बेतुका’ : एलन मस्क

0
20

नई दिल्ली, 23 जनवरी (आईएएनएस)। टेस्ला और स्पेसएक्स के सीईओ एलन मस्क ने सबसे अधिक आबादी वाला देश होने के बावजूद संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के स्थायी सदस्य के रूप में भारत के न होने को “बेतुका” बताया है।

रविवार को, संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने एक्स पर पोस्ट करते हुए कहा, “हम कैसे स्वीकार कर सकते हैं कि अफ्रीका से अभी भी सुरक्षा परिषद में एक भी स्थायी सदस्य नहीं है? संस्थानों को आज की दुनिया को प्रतिबिंबित करना चाहिए, न कि 80 साल पहले की।”

लेखक माइकल ईसेनबर्ग ने भारत के बारे में पूछते हुए जवाब दिया, “और भारत के बारे में क्या?”

मस्क ने ईसेनबर्ग की पोस्ट का जवाब देते हुए कहा, “संयुक्त राष्ट्र निकायों में सुधार की जरूरत है। समस्या यह है कि जिनके पास अतिरिक्त शक्ति है वे इसे छोड़ना नहीं चाहते।”

उन्होंने कहा, “पृथ्वी पर सबसे अधिक आबादी वाला देश होने के बावजूद भारत को सुरक्षा परिषद में स्थायी सीट नहीं मिलना बेतुका है। सामूहिक रूप से अफ्रीका को भी स्थायी सीट मिलनी चाहिए।”

भारत वर्षों से स्थायी जगह के लिए संघर्ष कर रहा है।

वर्तमान में, अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, रूस और चीन यूएनएससी के पांच स्थायी सदस्य हैं, जिन्हें अक्सर ‘पी5’ कहा जाता है।

इस बीच, मस्क ने उस रिपोर्ट का खंडन किया है जिसमें दावा किया गया है कि उनकी एआई कंपनी ‘एक्सएआई’ ने 1 अरब डॉलर के लक्ष्य के लिए 500 मिलियन डॉलर की फंडिंग हासिल की है।

ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट में सूत्रों का हवाला देते हुए कहा गया है कि एक्सएआई अतिरिक्त 500 मिलियन डॉलर की फंडिंग के लिए निवेशकों के साथ बातचीत कर रहा है।

एक्स पर लेख साझा करने वाले एक उपयोगकर्ता के जवाब में, एलोन मस्क ने रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा, “यह ब्लूमबर्ग की फर्जी खबर है”।

–आईएएनएस

एसकेपी/