इराकी शिया मिलिशिया ने सीरिया में तीन अमेरिकी ठिकानों व इज़राइल में नौसैनिक केंद्रों पर हमले का किया दावा

0
28

बगदाद, 29 जनवरी (आईएएनएस)। इराकी शिया मिलिशिया इस्लामिक रेसिस्टेंस इन इराक ने सीरिया में तीन अमेरिकी ठिकानों और इजरायल में एक नौसैनिक केंद्र पर हुए ड्रोन हमलों की जिम्मेदारी ली है।

श‍िन्हुआ समाचार एजेंसी ने बताया कि समूह ने रविवार को एक ऑनलाइन बयान में कहा कि उसके लड़ाकों ने सीरिया में तीन अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर विस्फोटक से भरे ड्रोन लॉन्च किए, इनमें अल-शद्दादी बेस, अल-तनफ बेस और इराक व जॉर्डन के साथ सीरिया की सीमाओं के पास रुक्बन कैंप शामिल हैं।

इसमें कहा गया है कि इसने इज़राइल में बंदरगाह शहर हाइफ़ा के पास ज़ेवुलुन नौसैनिक केंद्र पर चौथा ड्रोन हमला किया।

समूह ने कहा कि ये हमले गाजा पट्टी में चल रहे इजरायल-हमास संघर्ष के बीच अमेरिकी बलों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई की एक श्रृंखला का हिस्सा थे।

इस बीच, यूएस सेंट्रल कमांड ने एक बयान में कहा कि सीरियाई सीमा के पास उत्तरपूर्वी जॉर्डन में एक अमेरिकी बेस पर ड्रोन हमले में तीन अमेरिकी सैनिक मारे गए और दर्जनों अन्य घायल हो गए।

जॉर्डन के सरकारी संचार मंत्री मुहन्नद मुबैदीन ने भी रविवार को जॉर्डन के सरकारी अल ममलका टीवी से पुष्टि की कि एक हमले में दक्षिण-पूर्वी सीरिया में अल-तन्फ़ बेस को निशाना बनाया गया।

अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि ड्रोन हमला वही है, जो समूह ने इराक और जॉर्डन के साथ सीरिया की सीमाओं के पास किया था।

–आईएएनएस

सीबीटी/