केरल: भाजपा ने पलक्कड़ विधानसभा उपचुनाव के लिए शुरू किया अभियान

0
9

तिरुवनंतपुरम, 6 जुलाई (आईएएनएस)। चुनाव आयोग ने केरल में दो विधानसभा सीटों और वायनाड लोकसभा सीट के लिए उपचुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। इसके साथ ही भाजपा ने शनिवार को पलक्कड़ में अपना अभियान शुरू कर दिया है।

पलक्कड़ से कांग्रेस विधायक शफी परम्बिल और चेलक्करा से माकपा विधायक के. राधाकृष्णन ने लोकसभा चुनाव जीतने के बाद अपनी सीटें खाली कर दी थीं। इसके बाद इन सीटों पर उपचुनाव की जरूरत पड़ी।

भाजपा की पलक्कड़ इकाई ने केरल से पार्टी के दो कैबिनेट सदस्यों के सम्मान समारोह के बाद अपना अभियान शुरू किया।

सुरेश गोपी त्रिशूर लोकसभा सीट से जीते हैं जबकि वरिष्ठ पार्टी नेता जॉर्ज कुरियन को जल्द ही दूसरे राज्य से राज्यसभा में लाया जाएगा।

भाजपा ने अब पलक्कड़ के लिए उम्मीदवार की तलाश शुरू कर दी है। केरल भाजपा के अध्यक्ष के. सुरेंद्रन का नाम चर्चा में है।

वायनाड लोकसभा सीट राहुल गांधी के कारण खाली हो गई है इसलिए इस सीट पर उपचुनाव की जरूरत पड़ी है।

के. सुरेंद्रन के अलावा अलप्पुझा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने वाली शोभा सुरेंद्रन और पलक्कड़ लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने वाले कृष्ण कुमार का नाम भी चर्चा में हैं।

भाजपा, दिग्गज रेलवे इंजीनियर ई. श्रीधरन जैसे गैर-राजनीतिक उम्मीदवारों पर भी गंभीरता से विचार कर रही है, क्योंकि पार्टी को विश्वास है कि ऐसे लोग 140 सदस्यीय केरल विधानसभा में उसका खाता खोलने में मदद कर सकते हैं।

यह बात पलक्कड़ में विशेष रूप से सच है। दरअसल, यहां पिछले दो विधानसभा चुनावों में भाजपा उम्मीदवार दूसरे स्थान पर और माकपा उम्मीदवार तीसरे स्थान पर रहे थे।

चेलक्करा (जो अनुसूचित जाति के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित निर्वाचन क्षेत्र है) में भाजपा के पास ज्यादा संभावनाएं नहीं हैं। यहां पार्टी चुप बैठने वाली नहीं है। वह राज्य संचालित कॉलेज की सेवानिवृत्त प्राचार्य टीएन सरसु को भी अपने साथ ला सकती है।

कुछ साल पहले जब टीएन सरसु सेवानिवृत्त हुई थीं, उस समय माकपा की छात्र शाखा ने उन्हें परेशान किया था। संयोगवश, टीएन सरसु अलाथुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा की उम्मीदवार थीं, जिसमें चेलक्करा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र आता है।

भले ही वह लोकसभा चुनाव हार गईं, लेकिन 2019 के आम चुनावों की तुलना में वह भाजपा के वोटों में बड़े पैमाने पर वृद्धि करने में सफल रहीं।

वायनाड लोकसभा सीट के लिए उपचुनाव भी हो रहा है। यहां से कांग्रेस ने प्रियंका गांधी को अपना उम्मीदवार घोषित किया है, इसलिए इस सीट पर प्रचार के लिए कांग्रेस और भाजपा के कई नेता पहुंचेंगे।

इन नेताओं के पलक्कड़ और चेलक्करा में भी प्रचार करने की उम्मीद है, जिससे इन निर्वाचन क्षेत्रों में हाई-वोल्टेज अभियान का माहौल बनेगा।