राहुल गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने वाले विधायक को कर्नाटक पुलिस ने भेजा नोटिस

0
4

बेंगलुरु, 11 जुलाई (आईएएनएस)। लोकसभा में विपक्ष के नेता राहुल गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी को लेकर कर्नाटक पुलिस ने गुरुवार को दक्षिण कन्नड़ जिले से भाजपा विधायक वाई भरत शेट्टी को पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया है।

शेट्टी ने सोमवार को कांग्रेस सांसद पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि कांग्रेस सांसद राहुल गांधी को उनके कथित हिंदू विरोधी बयान के लिए संसद के अंदर बंद कर थप्पड़ मारना चाहिए।

कावूर पुलिस ने शेट्टी को नोटिस जारी करते हुए तीन दिनों के भीतर पेश होने को कहा है।

पुलिस ने उनके खिलाफ भारतीय न्याय संहिता (बीएनएस) की धारा 351 (3) (आपराधिक धमकी, अपमान), 353 (सार्वजनिक शरारत के लिए बयानबाजी) के तहत मामला दर्ज किया है।

इस संबंध में कांग्रेस नेता अनिल कुमार ने शिकायत दर्ज कराई थी।

शेट्टी ने कहा, ”विपक्ष के नेता राहुल गांधी को संसद के अंदर बंद कर थप्पड़ मारना चाहिए। ऐसा करने से सात से आठ एफआईआर दर्ज हो जाएंगी। अगर विपक्ष के नेता राहुल गांधी मैंगलोर शहर आते हैं तो हम उनके लिए भी यही व्यवस्था करेंगे।”

उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेता राहुल गांधी भगवान शिव की तस्वीर पकड़े हुए थे।

उन्होंने कहा था, “पागल को नहीं पता कि अगर भगवान शिव ने अपनी तीसरी आंख खोली तो वह (एलओपी) भस्म हो जाएंगे। उन्होंने हिंदू विरोधी नीति अपनाई है। यह स्पष्ट है कि एलओपी राहुल गांधी एक पागल है। उन्हें लगता है कि वह हिंदुओं के बारे में जो कुछ भी कहेंगे, हिंदू चुपचाप सुन लेंगे।”

शेट्टी ने दावा किया कि हिंदू धर्म और संस्थाओं की रक्षा करना भाजपा का कर्तव्य है। कांग्रेस ने यह संदेश देना शुरू कर दिया है कि हिंदू और हिंदुत्व अलग-अलग है। ऐसे नेताओं की वजह से भविष्य में हिंदुओं को खतरा होगा।”

उन्होंने कहा, ”शिवाजी और महाराणा प्रताप हिंदू समुदाय में पैदा हुए थे। जब भी जरूरत होगी, हम हथियार निकाल लेंगे। हम हथियारों की पूजा करने के बाद क्या करना है, अच्छी तरह से जानते हैं।”