प्रग्नानंदा ने कार्लसन को हराकर क्लास‍िकल शतरंज में रचा इत‍िहास, सोशल मीडिया पर लगा बधाइयों का तांता

0
8

नई दिल्ली, 30 मई (आईएएनएस)। भारत के स्टार शतरंज ख‍िलाड़ी रमेशबाबू प्रग्नानंदा ने क्लास‍िकल शतरंज में दुनिया के नंबर 1 ख‍िलाड़ी मैग्नस कार्लसन को हराकर नया इतिहास रच दिया है, उनकी इस जीत पर सोशल मीडिया पर उन्हें बधाई देेने वालों का तांता लग गया है।

भारत के इस युवा ख‍िलाड़ी ने नॉर्वे चेस 2024 के तीसरे दौर में सफेद मोहरों से खेलते हुए मैग्नस कार्लसन को हराया।

18 वर्षीय भारतीय ग्रैंडमास्टर ने कार्लसन के खिलाफ उनके घरेलू मैदान पर 5.5 अंकों के साथ लीडर पोजीशन हासिल की ।

कार्लसन और प्रग्नानंदा ने इस प्रारूप में अपने पिछले तीन मुकाबलों में ड्रॉ खेला था, जिनमें से दो विश्व कप 2023 फाइनल में थे।

प्रग्नानंदा की विश्व में नंबर 1 नॉर्वे के खिलाड़ी पर जीत के बाद, सोशल मीडिया पर बधाई देने वालों का तांता लग गया।

सोशल मीडिया एक्स पर एक प्रशंसक ने लिखा, “भारत से नई वैश्विक सनसनी!”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “एक शानदार न्यूज के साथ एक अच्छी सुबह। भारत के 18 वर्षीय शतरंज खिलाड़ी #प्रग्नानंदा ने क्लासिकल गेम में पहली बार विश्व में नंबर 1 #मैग्नस कार्लसन को हराने में कामयाबी हासिल की।

एक प्रशंसक ने एक्स पर पोस्ट किया, “यह जीत वाकई खास है, कार्लसन को उनके घर में हराना कोई छोटी उपलब्धि नहीं है।”

एक अन्य ने एक्स पोस्ट में लिखा, “यह वह प्रदर्शन है जो भारत को गौरवान्वित कर रहा है। वह एक चैंपियन है! प्रग्नानंदा को बहुत-बहुत बधाई! यह एक बड़ा मैच है जो उन्होंने मैग्नस कार्लसन के खिलाफ खेला और जीता। @प्रग्नानंदा धन्यवाद।”

एक यूजर ने लिखा, “आर प्रग्नानंदा आप शानदार हैं। निश्चित रूप से हमें एक अगला विश्वनाथन आनंद मिलने वाला है।”

यह प्रग्नानंदा के लिए एक बड़ी उपलब्धि है, वह पिछले साल वर्ल्ड कप में मैग्नस कार्लसन से हार गए थे। संयोग से प्रग्नानंदा कार्लसन को क्लास‍िकल चेस में हराने वाले केवल चौथे भारतीय हैं।