बच्चों के डेटा प्राइवेसी के नियमों के उल्लंघन को लेकर माइक्रोसॉफ्ट के खिलाफ ईयू में शिकायत दर्ज

0
12

लंदन, 4 जून (आईएएनएस)। निजी अधिकारों की रक्षा करने वाली संस्था नोयब की ओर से मंगलवार को ऑस्ट्रिया की डेटा प्रोटेक्शन अथॉरिटी के पास माइक्रोसॉफ्ट के खिलाफ बच्चों के डेटा प्राइवेसी के नियमों का उल्लंघन को लेकर शिकायत दर्ज कराई गई है।

गैर-लाभकारी संस्था ने माइक्रोसॉफ्ट के खिलाफ कहा कि कंपनी के प्रोडक्ट ‘365 एजुकेशन’ की सेवाएं बच्चों के डेटा प्रोटेक्शन अधिकारों का उल्लंघन करती है।

नोयब की ओर से कहा गया कि जब लोग अपने जनरल डेटा प्रोटेक्शन रेगुलेशन (जीडीपीआर) अधिकारों का उपयोग करना चाहते हैं तो माइक्रोसॉफ्ट की ओर से कहा गया कि स्कूल डेटा के ‘कंट्रोलर’ हैं।

आगे कहा कि स्कूलों का कहना है कि उनके पास स्कूल के डेटा का कंट्रोल नहीं है।

शिकायत में माइक्रोसॉफ्ट पर आरोप लगाया गया है कि कंपनी जीडीपीआर के तहत आने वाली कानूनी जिम्मेदारियां स्कूल पर डाल रही है, जो कि बच्चों को शिक्षा देने का काम काम करते हैं।

गैर-लाभकारी संस्था ने कहा कि माइक्रोसॉफ्ट के पास जाने वाली रिक्वेस्ट का कोई जवाब नहीं दिया जाता है। वहीं, डेटा का न मौजूद होने के कारण स्कूल इनका अनुपालन नहीं कर पा रहे हैं।

नोयब के डेटा प्रोटेक्शन वकील, मार्तजे डे ग्राफ का कहना है कि आओ और जाओ की एप्रोच पर माइक्रोसॉफ्ट जीडीपीआर से जुड़ी अपनी सभी जिम्मेदारियों को स्कूल पर डाल रही है।

आगे कहा कि माइक्रोसॉफ्ट के पास सॉफ्टवेयर में डेटा प्रोसेसिंग से जुड़ी सभी जिम्मेदारियां थी। जब अधिकारों के उपयोग की बात आती है तो कंपनी अपनी जिम्मेदारी स्कूल पर डाल रही है। स्कूल के पास अनुपालन करने के लिए पारदर्शी जानकारी नहीं है।

माइक्रोसॉफ्ट के 365 एजुकेशन में पर्सनल डेटा के प्रोसेसिंग को लेकर अस्पष्ट जानकारी उपलब्ध कराई गई है, जिसे एक अच्छा वकील पढ़ और समझ नहीं सकता है।

बच्चों या उनके माता-पिता के लिए माइक्रोसॉफ्ट की सीमा से डेटा कलेक्शन बाहर लाना लगभग असंभव है।