कांग्रेस सरकार द्वारा कच्चाथीवू द्वीप को श्रीलंका को सौंपने पर पीएम मोदी ने उठाया सवाल

0
9

नई दिल्ली, 31 मार्च (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि 1974 में श्रीलंका को दिए गए एक छोटे से द्वीप कच्चाथीवू पर नए तथ्यों से पता चलता है कि कांग्रेस ने कैसे रणनीतिक नजरिए से महत्वपूर्ण उस स्थान को छोड़ दिया।

एक्स पर एक पोस्ट में, पीएम मोदी ने कहा, “आंखें खोलने वाले और चौंका देने वाले नए तथ्यों से पता चलता है कि कैसे कांग्रेस ने बेरहमी से कच्चाथिवु को छोड़ दिया। इससे हर भारतीय नाराज है और अब वे कांग्रेस पर भरोसा नहीं कर सकते। कांग्रेस के 75 वर्षों के काम करने के तरीके से भारत की एकता कमजोर हुई।”

एक आरटीआई जवाब से चौंकाने वाले खुलासे के बाद पीएम मोदी की प्रतिक्रिया आई है। इसमें बताया गया है कि पूर्व पीएम इंदिरा गांधी ने कैसे रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण द्वीप श्रीलंका को सौंप दिया था।

तमिलनाडु भाजपा प्रमुख के. अन्नामलाई द्वारा आरटीआई के माध्यम से प्राप्त जानकारी से पता चलता है कि कैसे भारत ने श्रीलंका के हाथों द्वीप का नियंत्रण खो दिया।

दस्तावेज़ भारत के अनिर्णय को भी दर्शाता है। 1.9 वर्ग किमी की भूमि का यह द्वीप भारतीय तट से लगभग 20 किमी दूर है।