अलग-अलग राजनीतिक दलों से 200 शिकायतें मिलीं : निर्वाचन आयोग

0
20

नई दिल्ली, 16 अप्रैल (आईएएनएस)। भारतीय चुनाव आयोग (ईसीआई) ने मंगलवार को कहा कि विभिन्न राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों द्वारा ईसीआई और राज्यों के स्तर पर लगभग 200 शिकायतें दर्ज की गई हैं। ईसीआई ने कहा, “इनमें से 169 मामलों में कार्रवाई की गई है।”

इसमें कहा गया है कि बीजेपी से प्राप्त कुल शिकायतें 51 थीं, जिनमें से 38 मामलों में कार्रवाई की गई है, कांग्रेस से शिकायतें 59 थीं, जिनमें से 51 मामलों में कार्रवाई की गई, जबकि अन्य दलों से प्राप्त शिकायतें 90 थीं, जिनमें से 80 पर कार्रवाई की गई है।

ईसीआई ने कहा कि 16 मार्च को आदर्श आचार संहिता (एमसीसी) लागू होने के एक महीने बाद, वे राजनीतिक दलों द्वारा संहिता के अनुपालन से मोटे तौर पर संतुष्ट हैं।

ईसीआई ने कहा कि एक महीने की अवधि के दौरान, 7 राजनीतिक दलों के 16 प्रतिनिधिमंडलों ने एमसीसी और संबंधित मामलों के कथित उल्लंघन पर अपनी शिकायतें दर्ज करने के लिए आयोग से मुलाकात की।

राज्यों में मुख्य निर्वाचन अधिकारी के स्तर पर कई प्रतिनिधिमंडल मिले। सभी राजनीतिक दलों के साथ समान व्यवहार किया गया है, कम समय में भी सभी को समय दिया गया है और उनकी शिकायतों को धैर्यपूर्वक सुना गया है।

आगे कहा गया है, “होर्डिंग्स को शामिल कर मौजूदा कानून में ‘पैम्फलेट और पोस्टर’ के अर्थ को व्यापक आयाम देते हुए सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को दिशानिर्देश जारी किए गए हैं, जिसमें होर्डिंग्स सहित मुद्रित चुनाव-संबंधी सामग्री पर प्रिंटर और प्रकाशक की स्पष्ट पहचान को अनिवार्य किया गया है।”

ईसीआई ने डीएमके नेता अनीता आर राधाकृष्णन द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति की गई टिप्पणी के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कराई है, जबकि कांग्रेस और आप की शिकायत पर, व्हाट्सएप पोस्ट पर सरकार के विकसित भारत संदेश के प्रसारण को रोकने के लिए एमईआईटीवाई को निर्देश जारी किए गए।

चुनाव आयोग ने यह भी कहा कि नागरिकों के उल्लंघन पर आयोग के पोर्टल ‘सी-विजिल’ पर कुल 2,68,080 शिकायतें दर्ज की गई हैं।