पेरिस 2024 : रोहन बोपन्ना, सुमित नागल को टेनिस में मिला ओलंपिक का कोटा

0
10

नई दिल्ली, 11 जून (आईएएनएस)। भारतीय टेनिस स्टार रोहन बोपन्ना और सुमित नागल ने क्रमशः युगल और एकल में अपनी एटीपी रैंकिंग के जरिए पेरिस 2024 ओलंपिक के लिए कोटा हासिल कर लिया है।

विश्व के वर्ल्ड नंबर-4 रोहन बोपन्ना ने लंदन 2012 और रियो 2016 ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। उन्होंने पिछले साल नवंबर से युगल रैंकिंग में शीर्ष 10 में अपना स्थान बनाए रखते हुए भारत के लिए कोटा हासिल किया।

ओलंपिक डॉट कॉम के अनुसार, पिछले सप्ताह एकल रैंकिंग में 18 स्थान की बढ़त के साथ सुमित नागल ने कट-ऑफ में जगह बनाई, जो विश्व रैंकिंग के माध्यम से कोटा हासिल करने वाले खिलाड़ियों में अंतिम स्थान पर है।

पिछले सप्ताह 95वें स्थान पर रहे सुमित नागल ने रविवार को जर्मनी में हीलब्रॉन नेकरकप में एटीपी चैलेंजर खिताब जीतने के बाद अपने करियर की सर्वोच्च 77वीं रैंकिंग हासिल की।

हालांकि, नागल रैंकिंग में 77वें स्थान पर हैं, लेकिन वह विश्व रैंकिंग के जरिए कोटा प्राप्त करने वाले योग्य खिलाड़ियों में अंतिम स्थान पर हैं।

पेरिस 2024 में पुरुष और महिला एकल स्पर्धाओं में 64-64 खिलाड़ी भाग लेंगे। 10 जून को जारी एटीपी रैंकिंग के अनुसार, टॉप- 56 पुरुष एकल खिलाड़ियों ने अपने-अपने देशों के लिए कोटा हासिल कर लिया है। हालांकि, प्रत्येक देश अधिकतम चार कोटा हासिल कर सकता है।

पेरिस 2024 में पुरुष और महिला युगल ड्रॉ में 32 टीमें शामिल होंगी, जिसमें एक टीम एक ही देश के एथलीटों की जोड़ी होगी यानी प्रत्येक देश में अधिकतम दो टीमें होंगी।

पेरिस 2024 के लिए टेनिस क्वालिफिकेशन विंडो सोमवार को समाप्त हो गई। राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों के पास अपने कोटा के उपयोग की पुष्टि करने के लिए 19 जून तक का समय है।

44 वर्षीय बोपन्ना ने साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलियन ओपन ग्रैंड स्लैम जीता था और पिछले सप्ताह वह फ्रेंच ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचे। उन्होंने लंदन 2012 खेलों और रियो 2016 में भारत का प्रतिनिधित्व किया था लेकिन टोक्यो 2020 ओलंपिक में जगह बनाने से चूक गए थे।