डॉर्टमुंड को 2-0 से हराकर रियल मैड्रिड बना चैंपियन

0
12

लंदन, 2 जून (आईएएनएस)। स्पैनिश क्लब रियल मैड्रिड ने 15वीं बार यूरोपियन फुटबॉल का सबसे बड़ा टूर्नामेंट यूईएफए चैंपियंस लीग खिताब जीता। रियल मैड्रिड ने डॉर्टमुंड को 2-0 से एकतरफा अंदाज में हराते हुए यह ऐतिहासिक जीत दर्ज की।

शनिवार देर रात लंदन के वेम्बली स्टेडियम में रियल मैड्रिड ने टीम जर्मन क्लब बोरुसिया डॉर्टमुंड के खिलाफ दमदार प्रदर्शन किया। हालांकि, मैच की शुरुआत दोनों टीमों के बीच धीमी रही और किसी भी टीम ने ज्यादा रिस्क नहीं लिया। यही कारण था कि पहला क्वार्टर खत्म होने के बावजूद स्कोर 0-0 रहा।

रियल मैड्रिड और डॉर्टमुंड ने कई मौके जरूर बनाए, लेकिन वे गोल दागने में सफल नहीं रहे।

डॉर्टमुंड के लिए 23वें मिनट में निकलस फुलक्रुग ने शानदार मौका बनाया लेकिन गेंद गोल पोस्ट से टकराकर आ गई।

पहला हाफ गोलरहित खत्म होने के बाद दूसरे हाफ में रियल मैड्रिड ने आक्रमण तेज कर दिया। लेकिन डॉर्टमुंड ने अपने डिफेंस में कोई गलती नहीं की। एक समय ऐसा लगा कि मैच ड्रॉ की तरफ बढ़ रहा है।

मगर फैंस का इंतजार आखिरकार खत्म हुआ और रियल मैड्रिड के लिए पहला गोल डानी कार्वाहाल ने 74वें मिनट में किया। इसके बाद डॉर्टमुंड ने भी अटैक शुरू किया लेकिन इसका उन्हें लाभ नहीं मिला।

मैच के 83वें मिनट में विनिसियस जूनियर ने रियल मैड्रिड की बढ़त डबल कर दी। इस तरह रियल मैड्रिड ने 15वीं बार यूईएफए चैंपियंस लीग का खिताब अपने नाम किया।

मैड्रिड के कोच कार्लो एन्सेलोटी ने कहा, “आप कभी भी इसके आदी नहीं हो सकते। यह जितना हमने सोचा था उससे कहीं अधिक कठिन था। पहले हाफ में हमें परेशानी उठानी पड़ी, दूसरे हाफ में हमने वापसी की और बेहतर खेला लेकिन अब ये सब छोटी-छोटी बातें हैं। हम जीत गए। आगे भी यह जारी रहेगा।”

डॉर्टमुंड के मुख्य कोच एडिन ट्रैजिक ने कहा, “हमने शानदार प्रदर्शन किया और मुझे लगता है कि हम 2-0 से हार के हकदार नहीं थे। पहले सेकंड से ही हमने दुनिया को दिखा दिया कि हम यहां सिर्फ़ फ़ाइनल खेलने नहीं आए हैं, बल्कि इसे जीतने आए हैं।”