प्रियंका चतुर्वेदी की अभद्र टिप्पणी, कहा- श्रीकांत शिंदे भी ‘मेरा बाप गद्दार है’ का बोझ हमेशा ढोते रहेंगे

0
21

मुंबई, 9 मई (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव के तीन चरण पूरा हो चुके हैं। राजनीतिक दलों के नेता चौथे चरण के लिए चुनाव प्रचार में जोर शोर से जुटे हैं। ऐसे में शिवसेना-यूबीटी की राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने घाटकोपर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम एकनाथ शिंदे के खिलाफ विवादित बयान दिया। इसके बाद राजनीतिक गलियारों में हलचल मची है।

प्रियंका चतुर्वेदी ने घाटकोपर में शिवसेना-यूबीटी के मुंबई उत्तर पूर्व लोकसभा सीट से उम्मीदवार संजय डी. पाटिल के लिए प्रचार किया। इस दौरान उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए प्रतिद्वंद्वी शिवसेना उम्मीदवार नरेश म्हस्के और ठाणे के पूर्व मेयर पर तीखा हमला किया।

इस बीच उन्होंने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उनके बेटे श्रीकांत शिंदे की भी आलोचना की। श्रीकांत शिंदे ठाणे जिले की कल्याण लोकसभा सीट से उम्मीदवार हैं।

प्रियंका चतुर्वेदी ने लोगों को जून 2022 में (अविभाजित) शिवसेना विभाजन की याद दिलाते हुए कहा, “आप कौन हैं… एकनाथ शिंदे… आप क्या हैं… एकनाथ शिंदे? आप एक ‘गद्दार’ के अलावा और कुछ नहीं हैं।”

उस समय एक बड़ी राजनीतिक उठापटक में तत्कालीन सीएम उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी सरकार को गिरा दिया गया था। एकनाथ शिंदे भाजपा के समर्थन से ‘सीएम की गद्दी’ पर बैठे थे।

उन्होंने कहा कि आप कुछ भी करें, आप उस ‘गद्दार’ के दाग से बच नहीं सकते। इस मौके पर उन्होंने बॉलीवुड एक्टर अमिताभ बच्चन की हिंदी फिल्म ‘दीवार’ के एक डायलॉग का जिक्र किया।

उन्होंने कहा कि ‘दीवार फिल्म में एक सीन में अमिताभ बच्चन अपना हाथ दिखाते हैं। उनके हाथ पर ‘मेरा बाप चोर है’ लिखा हुआ है। यही डायलॉग श्रीकांत शिंदे के माथे पर लिखा है। इसी तरह, सीएम के बेटे श्रीकांत शिंदे भी ‘मेरा बाप गद्दार है’ का बोझ हमेशा ढोते रहेंगे और परिणामों से बच नहीं सकते।”

इंडिया-एमवीए गठबंधन की संयुक्त रैली में उन्होंने कहा कि एमवीए पूरे महाराष्ट्र में बड़ी जीत के लिए तैयार है। यह सत्तारूढ़ महा झूठे गठबंधन के खिलाफ लोगों की लड़ाई है।