‘द ग्रेट इंडियन कपिल शो’ में सनी देओल ने कहा, ‘जब से बहू घर आई किस्‍मत बदल गई’

0
13

मुंबई, 5 मई (आईएएनएस)। ‘द ग्रेट इंडियन कपिल शो’ में शामिल हुए देओल ब्रदर्स ने शो में जमकर मस्‍ती की। शो में सनी देओल ने कहा कि जब से उनके बेटे करण ने अपनी प्रेमिका द्रिशा आचार्य से शादी की है, उनके परिवार की किस्‍मत बदल गई है।

सनी ने ‘द ग्रेट इंडियन कपिल शो’ पर शेयर किया, “23 साल बीत गए और बहुत सी चीजें हो रही थीं… हम कोशिश कर रहे थे, मैं सिर्फ एक काम नहीं कर रहा था, मैं कई काम कर रहा था, बॉबी और पापा भी कर रहे थे। लेकिन, जब से मेरे बेटे की शादी हुई और एक बेटी घर आई, मुझे नहीं पता, सब कुछ बदल गया।”

सनी ने कहा कि उनके पिता 1960 के दशक से इंडस्ट्री का हिस्सा हैं और वे भी सुर्खियों में रहे हैं। हालांकि, उनकी “बेटी” के घर आने के बाद ‘गदर 2’, ‘रॉकी और रानी की प्रेम कहानी’ और ‘एनिमल’ से कई चीजें बदल गईं।

उन्‍होंने कहा, ”हमने कई चीजें आती-जाती देखीं। हम सभी को लोगों का बहुत प्यार मिलता है, लेकिन चीजें नहीं हो रही थीं। लेकिन इस बार अचानक हमारी बेटी आई, और फिर ‘गदर 2’ आई। उससे पहले पापा की फिल्म रिलीज हुई थी।”

जून 2023 में सनी के बेटे करण ने द्रिशा आचार्य से शादी की थी।

2001 की ब्लॉकबस्टर ‘गदर: एक प्रेम कथा’ की अगली कड़ी ‘गदर 2’ को मिली प्रतिक्रिया पर सनी ने खुुुुलकर बात की।

सनी ने कहा, “जब मेरी फिल्म आई तो मुझे नहीं पता था कि क्या हो रहा है क्योंकि अंदर से मैं रो रहा था और हंस रहा था। मुझे विश्वास ही नहीं हो रहा था, और उसके बाद जब ‘एनिमल’ आई और उसे जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला।”

सनी की बातें सुनकर उनके भाई बॉबी देओल की आंखों में आंसू आ गए।

सनी ने आगे कहा, “यह आपका प्यार है। हमें इंडस्ट्री से इस तरह की प्रतिक्रिया की उम्मीद नहीं थी और जब मैं फिल्म कर रहा था, तो, लोगों ने कहा कि इसे कौन देखेगा? लेकिन, आपने उन्हें बताया कि आप देखना चाहते हैं।”

शो के होस्ट कपिल शर्मा ने सनी से यह भी पूछा कि क्या उन्हें 1983 में ‘बेताब’ से डेब्यू करते समय दबाव महसूस हुआ था, यह जानते हुए कि उनके पिता धर्मेंद्र एक बड़े स्टार थे।

सनी ने याद करते हुए कहा, “मैंने ऐसा कभी नहीं सोचा था। मुझे बस इतना पता था कि मैं एक अभिनेता बनना चाहता हूं और इस पर काम करना शुरू कर दिया। मुझे अभी भी याद है जब ‘बेताब’ का मुहूर्त मेहबूब स्टूडियो में हुआ था… बॉबी छोटा था… मुझे डायलॉग बोलने के लिए कहा गया था, और मैंने बिना घबराए बोल दिया।”