अफगानिस्तान का सफर सेमीफाइनल में खत्म, पहली बार विश्व कप फाइनल में द. अफ्रीका

0
11

पोर्ट ऑफ स्पेन (त्रिनिदाद), 27 जून (आईएएनएस)। दक्षिण अफ्रीका ने गुरुवार को ब्रायन लारा स्टेडियम में अफगानिस्तान को 9 विकेट से हराकर टूर्नामेंट के फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली। यह पहली बार है जब द.अफ्रीका की टीम टी20 विश्व कप के फाइनल में पहुंची है।

टी20 विश्व कप 2024 की पहली फाइनलिस्ट दक्षिण अफ्रीका की टीम है। गुरुवार को खेले गए पहले सेमीफाइनल मैच में अफ्रीकी टीम ने एकतरफा मुकाबले में अफगानिस्तान को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया।

यह एकतरफा सेमीफाइनल रहा, जिसमें दक्षिण अफ्रीका ने अफगानिस्तान को गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग, हर विभाग में मात दी।

दक्षिण अफ्रीका की यह जीत ऐतिहासिक है। इस जीत के साथ ही इस टीम ने पहली बार किसी विश्व कप फाइनल में एंट्री की है।

ऐसा नहीं है कि दिग्गजों से शुमार ये टीम कभी नॉकआउट चरण तक नहीं पहुंची। अफ्रीका की टीम 5 बार वनडे और 2 बार टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल से बाहर हो चुकी है। इसलिए उसके नाम के आगे चोकर्स का दाग लग गया था, जिसे अब ये टीम मिटा चुकी है।

टॉस जीतकर अफगानिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। टीम की शुरुआत बेहद खराब रही। अफगानिस्तान मात्र 11.5 ओवर में 10 विकेट पर 56 रन पर सिमट गई।

यह पहली बार है जब किसी टीम ने पुरुष टी-20 विश्व कप सेमीफाइनल में अपने प्रतिद्वंद्वी को 100 रन से कम पर आउट कर दिया है।

इस मुकाबले के हीरो रहे मार्को जेनसन और तबरेज़ शम्सी, जिन्होंने तीन-तीन विकेट लिए। वहीं, कागिसो रबाडा (2-14) और एनरिक नॉर्टजे (2-7) ने भी आक्रामक रवैया अपनाते हुए अफगानिस्तान की टीम को 11.5 ओवर में 56 रन के मामूली स्कोर पर समेट दिया। जवाब में अफ्रीकी टीम ने महज 1 विकेट खोकर यह लक्ष्य 8.5 ओवर में हासिल कर लिया।

यह विकेट बल्लेबाजी के लिए आसान नहीं था। द.अफ्रीका को दूसरे ओवर की पांचवीं गेंद पर पहला विकेट गिरा। अफगानिस्तान के फजलहक फारूकी ने क्विंटन डिकॉक को 5 रन पर बोल्ड किया। लेकिन ज्यादा रिस्क न लेते हुए रीजा हेंड्रिक्स ने 29 रन और कप्तान एडेन मार्कराम ने 23 रन बनाकर टीम को फाइनल में पहुंचाया।

यह जीत दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट के लिए एक महत्वपूर्ण सफलता है। अब उनका मुकाबला खिताबी जंग में भारत बनाम इंग्लैंड सेमीफाइनल-2 के विजेता से 29 जून को होगा।