स्टॉप क्लॉक पेनाल्टी का पहला शिकार बना यूएसए

0
22

न्यूयॉर्क, 13 जून (आईएएनएस)। टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेल की गति को बढ़ाने की मंशा से लाए गए स्टॉप क्लॉक नियम का पहला शिकार संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएसए) की टीम बनी है।

बुधवार को न्यूयॉर्क में टी20 विश्व कप 2024 में भारत के खिलाफ खेले गए मैच में यूएसए को पेनाल्टी के तौर पर पांच अतिरिक्त रन देने पड़ गए।

यह पेनाल्टी तीन बार ओवर को समय पर शुरू ना करने की वजह से लगाई जाती है। जिस समय यूएसए पर यह पेनाल्टी लगी, वह मैच का बेहद महत्वपूर्ण मोड़ था।

अगला ओवर समय पर शुरू न करने के लिए अमेरिका की खिंचाई की गई और परिणामस्वरूप, उनके प्रतिद्वंद्वी भारत को अतिरिक्त रन दिए गए।

यह नियम 1 जून से पुरुषों के वनडे और टी20आई में लागू किए गए हैं। नियमों के मुताबिक पिछले ओवर की समाप्ति और नए ओवर की शुरुआत के बीच एक मिनट से अधिक समय बर्बाद नहीं होना चाहिए। अगर एक पारी में ऐसा तीसरी बार होता है तब गेंदबाजी टीम पर पांच रनों की पेनल्टी लगाई जाएगी।

भारत को 111 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए अंतिम पांच ओवरों में 35 रन चाहिए थे, जो एक कठिन बल्लेबाजी पिच पर चुनौतीपूर्ण था।

16वें ओवर की शुरुआत में, स्टॉप-क्लॉक नियम लागू हुआ, यूएसए पारी में तीसरी बार समय पर ओवर शुरू करने में विफल रहा।

इसके बाद अंपायरों ने पांच रन की पेनल्टी लगाई, जिससे भारत का लक्ष्य 30 गेंदों पर 30 रन रह गया। इस रोमांचक मोड़ पर एक्स्ट्रा रन भारत के लिए काफी अहम रहा।

अंपायरों को चोटिल मोनंक पटेल की अनुपस्थिति में यूएसए की कप्तानी कर रहे आरोन जोन्स को पेनल्टी के बारे में समझाते हुए देखा गया। फिर, यूएसए की टीम को पेनल्टी स्वीकार करनी पड़ी। अंत में भारत ने यह मैच 10 गेंद शेष रहते सात विकेट से जीत लिया।

इस जीत ने भारत को तीन मैचों में तीन जीत के साथ सुपर 8 में पहुंचा दिया है। जबकि अमेरिका को अब आयरलैंड के खिलाफ अपने अंतिम ग्रुप मैच में जीत दर्ज करनी होगी। हालांकि, जीत या कोई नतीजा न मिलने पर वे सुपर 8 में पहुंच जाएगा, लेकिन हार से उनकी क्वालिफिकेशन की उम्मीदें नेट रन रेट पर निर्भर हो सकती हैं।