विश्व शतरंज चैंपियशिप की मेजबानी के लिए तीन में से दो बोलियां भारत से

0
8

चेन्नई, 1 जून (आईएएनएस)। अखिल भारतीय शतरंज महासंघ (एआईसीएफ), तमिलनाडु सरकार और सिंगापुर शतरंज महासंघ ने विश्व शतरंज प्रतियोगिता की मेजबानी के लिए अपनी बोलियां दी हैं। फिडे या अंतर्राष्ट्रीय शतरंज महासंघ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी है।

खिताबी मुकाबला भारतीय ग्रैंडमास्टर और युवा चैलेंजर डी गुकेश तथा मौजूदा विश्व चैंपियन चीन के ग्रैंडमास्टर डिंग लिरेन के बीच होगा।

फिडे के सीईओ ग्रैंडमास्टर एमिल सुतोवस्की ने ‘आईएनएस’ से कहा,”चेन्नई(तमिलनाडु सरकार), अपने देश की सरकार से समर्थित सिंगापुर शतरंज महासंघ और एआईसीएफ ने अपनी बोलियां जमा कराई हैं। ”

सुतोवस्की ने कहा, ”तीनों पूरी तरह गंभीर हैं और फिडे मापदंडों को पूरा करते हैं। “

उनके अनुसार फिडे की परिषद अगले सप्ताह बैठक कर चर्चा करेगी। सुतोवस्की ने कहा, ”सभी बोलियां मजबूत हैं। हमें उनकी ध्यान से समीक्षा करने के लिए और समय की जरूरत है । जून में इसका अंतिम फैसला हो जाएगा।

बोली जमा कराने की अंतिम तारीख 31 मई को समाप्त हो गयी है।

दिलचस्प बात यह है कि भारत से तमिलनाडु सरकार और एआईसीएफ द्वारा प्रतिस्पर्धी बोलियां लगाई जा रही हैं।

यह पूछे जाने पर कि क्या दोनों खिलाड़ियों की इच्छा है कि खेल स्थल के बारे में पता लगाया जाए, सुतोवस्की ने कहा: “हमने इस सवाल के साथ खिलाड़ियों से संपर्क नहीं किया है। कई तुलनीय बोलियां होने पर हम ऐसा कर सकते हैं।”