ऑनलाइन ऑर्डर किया गया केक खाने से लड़की की मौत के बाद ज़ोमैटो ने रेस्तरां को हटाया, मालिक पर प्रतिबंध लगाया

0
18

नई दिल्ली, 31 मार्च (आईएएनएस)। ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म जोमैटो ने रविवार को कहा कि उसने पटियाला के उस रेस्तरां को अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया है जिससे ऑनलाइन ऑर्डर किया गया जन्मदिन का केक खाने के बाद 10 साल की एक लड़की की मौत हो गई थी। साथ ही उसके मालिक को भी प्रतिबंधित कर दिया है।

कंपनी ने सोशल मीडिया पर भारी आलोचना का सामना करने के बाद कहा कि वह “पटियाला में हुई हालिया घटना से दुःखी है और पूरी तरह हिल गई है”।

कंपनी के एक प्रवक्ता ने आईएएनएस को बताया, “जैसे ही हमें घटना के बारे में पता चला, जिसकी अब पुलिस जांच जारी है, हमने तुरंत रेस्तरां को ज़ोमैटो प्लेटफ़ॉर्म से हटा दिया। हमने रेस्तरां मालिक को ज़ोमैटो पर किसी भी इकाई का संचालन करने से भी रोक दिया है।”

प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी कानून प्रवर्तन एजेंसियों को अपना पूरा समर्थन दे रही है।

लड़की के परिवार के सदस्यों द्वारा दर्ज शिकायत के बाद पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 273 और 304-ए के तहत मामला दर्ज किया है। इसमें आरोप लगाया गया है कि जन्मदिन का केक खाने के बाद लड़की की मौत हो गई। केक खाने के बाद परिवार के अन्य सदस्य भी बीमार पड़ गये थे।

मृतका की मां काजल ने केक ऑर्डर किया था। बिल की कॉपी पर जो पता है, पटियाला में उस पते पर ‘केक कान्हा’ नाम की कोई दुकान नहीं है।

पुलिस को शक है कि बेकरी क्लाउड किचन है। इसके अतिरिक्त, ज़ोमैटो के एक अन्य रसीद चालान में बिलिंग अमृतसर से की गई है, न कि पटियाला से।

कई नेटिज़ेंस ने फूड-डिलीवरी ऐप के रूप में सूचीबद्ध क्लाउड किचन पर खराब विनियमन के लिए ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म की आलोचना की।