देश को मोदी की गारंटी पर है पूरा भरोसा, बिखर रहा है कांग्रेस का इंडी गठबंधन : भूपेंद्र यादव (आईएएनएस इंटरव्‍यू)

0
14

अलवर, 27 मार्च (आईएएनएस)। भाजपा ने इस बार राज्यसभा के अपने कई दिग्गज सांसदों को चुनावी मैदान में उतारा है, जिनमें केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव भी शामिल हैं। यादव को भाजपा ने राजस्थान के अलवर लोकसभा सीट से उम्मीदवार घोषित किया है। उन्होंने बुधवार को अपना नामांकन भी दाखिल कर दिया। लोकसभा का चुनाव लड़ना, चुनावी प्रबंधक और रणनीतिकार की भूमिका से कितना अलग है, अलवर और पूरे राजस्थान में भाजपा के लिए चुनावी माहौल कैसा है, राजस्थान में कांग्रेस का गठबंधन भाजपा के लिए कितनी बड़ी चुनौती है और पूरे देश में 400 पार का लक्ष्य एनडीए गठबंधन कैसे हासिल करेगा, इन तमाम मुद्दों पर आईएएनएस ने केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव के साथ खास बातचीत की। पेश हैं बातचीत के अंश –

सवाल : आप लंबे समय तक राज्यसभा में रहे हैं, इस बार पार्टी ने आपको लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार बनाकर उतारा है । इसे लेकर आप कितने सहज हैं?

जवाब : मैं बहुत ही अच्छा और सहज हूं, क्योंकि इस बार अंतर सिर्फ इतना ही है कि मैंने खुद अपना नामांकन का पर्चा भरा है, बाकी कार्यकर्ता, संगठन और जनता इस लड़ाई को लड़ रही है। मेरा सौभाग्य है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी नेतृत्व ने मुझे अलवर से पार्टी का उम्मीदवार बनने का और यहां की जनता की सेवा करने का अवसर दिया है।

सवाल : आपको भाजपा का एक बड़ा चुनावी प्रबंधक और रणनीतिकार माना जाता है, अब तक कई राज्यों में आप पार्टी को चुनाव लड़वाने की भूमिका में काम कर चुके हैं । पहली बार खुद लोकसभा का चुनाव लड़ रहे हैं। चुनाव लड़वाने और चुनाव लड़ने में क्या फर्क लग रहा है आपको?

जवाब : भूमिकाएं बदल जाती हैं। पहले आप बाकी लोगों के लिए योजना निर्माण का कार्य करते हो, लेकिन अब संगठन आपके लिए योजना बनाता है और आप उस पर कार्य करते हो। मैं संगठन के कार्यकर्ता के तौर पर ही चुनाव लड़ रहा हूं, जिस तरह से मैं संगठन के कार्यकर्ता के तौर पर चुनाव प्रबंधन का कार्य किया करता था।

सवाल : अलवर लोकसभा सीट की बात करें तो ऐसे कौन से समीकरण है, जिसे आप अपने लिए सकारात्मक मान रहे हैं? यहां के लोगों के लिए आपके पास क्या प्लान है?

जवाब : मेरे से पहले हमारे जिन सांसदों ने अलवर के विकास के लिए काम किए हैं, मैं सबसे पहले उनका आभार व्यक्त करता हूं। मैंने भी पहले ही अपने सांसद निधि से ई-लाइब्रेरी से लेकर खेल मैदान तक कई विकास कार्य यहां कराए हैं, लेकिन अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गारंटी के कारण अलवर में कई तरह के नए प्रकार के विकास कार्य हो रहे हैं और खासतौर से ईआरसीपी, जिससे जुड़े एमओयू पर राजस्थान सीएम भजनलाल शर्मा और मध्य प्रदेश सीएम मोहन यादव ने हस्ताक्षर किए हैं, उसको आगे बढ़ाने का काम है। अलवर में पानी की समस्या को दूर करने के लिए जो कार्य योजना है उसे जल्द से जल्द पूरा करना हमारा लक्ष्य होगा। गहलोत सरकार ने इसे रोक दिया था,हमारी सरकार आने पर फिर से यह काम शुरू हुआ है, मोदी की गारंटी में सब चीजें तय समय पर पूरी होती है और लोगों को मोदी की गारंटी पर पूरा भरोसा है।

सवाल : पिछले लोकसभा चुनाव में राजस्थान में एनडीए गठबंधन को सभी 25 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। इस बार क्या आकलन है?

जवाब : राजस्थान की जनता भाजपा को सभी 25 सीटों पर विजयी बनाएगी।

सवाल : लेकिन कांग्रेस के दावे तो कुछ और ही है। उन्होंने राजस्थान में आपके पुराने सहयोगी हनुमान बेनीवाल और सीपीएम के साथ भी गठबंधन किया है?

जवाब : कांग्रेस कुछ भी कर ले हम राजस्थान में लोकसभा की सभी 25 सीटें जीतेंगे। कांग्रेस का अस्तित्व और जनाधार पूरी तरह से खत्म होता जा रहा है, उनके नेताओं में आपसी कलह और गुटबाजी चरम पर है। कांग्रेस अपनी साख और विश्‍वसनीयता ,दोनों ही खो चुकी है इसलिए जनता उनको लेकर बहुत ज्यादा गंभीर नहीं है।

सवाल : कांग्रेस के दिग्गज नेताओं चाहे वो अशोक गहलोत हो या सचिन पायलट, उनके चुनाव नहीं लड़ने को भी मुद्दा बनाया जा रहा है?

जवाब : कांग्रेस के बड़े नेता हताश और निराश हैं। अब उनको लगता है कि उनके लिए कोई रास्ता नहीं बचा है। बड़ी बात यह है कि उन्होंने इतना ज्यादा भ्रष्टाचार किया है, राजस्थान की युवाओं को धोखा दिया है, हर दूसरे महीने राजस्थान में पेपर लीक करवाए हैं और इसलिए वह जनता का सामना करने की हिम्मत नहीं कर पा रहे हैं।

सवाल : विधानसभा चुनाव के समय भी भाजपा ने इन्‍हीं मुद्दों को जोर-शोर से उठाया था, जनता ने आपके मुद्दों को समर्थन दिया और राज्य में आपकी सरकार बनवा दी? राज्य सरकार ने इन मुद्दों पर अब तक क्या-क्या काम किया?

जवाब : राजस्थान में सरकार बनते ही हमारे मुख्यमंत्री ने पानी की समस्या को लेकर सबसे पहले ईआरसीपी के विषय को आगे बढ़ाया, बिजली के विषय पर एक लाख 60 हजार करोड़ रुपए के एमओयू पर हस्ताक्षर किया, वैट कम कर राजस्थान की जनता को राहत देने का काम किया और पेपर लीक करने वालों के खिलाफ कार्रवाई एवं दोषियों की गिरफ्तारी भी शुरू हो गई है।

सवाल : भाजपा मोदी की गारंटी की बात कर रही है और आपकी विरोधी कांग्रेस भी गारंटी की बात कर रही है। जनता को इन दोनों गारंटियों का फर्क आप कैसे समझाएंगे?

जवाब : जहां तक कांग्रेस या राहुल गांधी की गारंटी का सवाल है, उस पर तो खुद उनके ही साथी तक भरोसा नहीं करते हैं। उनकी गारंटी तो केवल एक छलावा और धोखा है। कांग्रेस यह तो बताएं कि जिस हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक में वह कई गारंटी देकर सत्ता में आई, वहां पर उन्होंने अब तक कितनी गारंटी को पूरा किया है। उनके पास कहने के लिए कुछ है ही नहीं। जबकि देश की जनता को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व और मोदी की गारंटी पर पूरा भरोसा है। पिछले 10 सालों के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लोगों ने देश को बदलते हुए देखा है, दुनिया भर में भारत के सम्मान को बढ़ते हुए देखा है, लंबे समय से पेंडिंग पड़ी हुई समस्याओं को सुलझते हुए देखा है और लोगों को यह लगता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में ही देश का विकास होगा।

सवाल : राजस्थान के साथ-साथ पूरे देश की बात करें तो आप राष्ट्रीय स्तर पर राजनीतिक माहौल को कैसे देखते हैं? आप लोगों ने भाजपा 370 और एनडीए 400 पार का लक्ष्य भी सामने रख दिया है?

जवाब : कांग्रेस के इंडी गठबंधन का छलावा देश की जनता के सामने आ चुका है। कांग्रेस और इंडी गठबंधन, दोनों बिखर रहे हैं। पूरे देश को मोदी की गारंटी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व पर भरोसा है। हम 370 और 400 पार का लक्ष्य पूरी तरह से प्राप्त करेंगे, यह लोगों की आवाज है।