रांची के पास कंटेनर सहित एक व्यक्ति को जिंदा जलाने के मामले में पांच गिरफ्तार

0
9

रांची, 8 जून (आईएएनएस)। रांची के खलारी-मैकलुस्कीगंज इलाके में 28 मई की रात एक मालवाहक कंटेनर सहित एक व्यक्ति को जिंदा जला डालने के मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

इन आरोपियों ने इलाके में ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछा रही कंपनी सिंह इन्फ्रास्ट्रक्चरल प्रा. लि. से काम करने के एवज में दो लाख रुपए रंगदारी की मांग की थी। कंपनी के ठेकेदार ने उन्हें 20 हजार रुपए देने पर हामी भरी थी। इस रकम का भी भुगतान न होने पर आरोपियों ने कंटेनर में आग लगा दी थी, जिससे उसपर सवार एक मजदूर संजय भुइयां की जिंदा जलकर मौत हो गई थी।

बाद में कंटेनर के चालक अखिलेश ठाकुर के बयान पर मैक्लुस्कीगंज थाने में 29 मई को एफआईआर दर्ज की गई थी।

रांची के एसएसपी चंदन कुमार कुमार सिन्हा ने बताया कि इन अपराधियों को दुल्ली जंगल के पास गिरफ्तार किया गया है। ग्रामीण एसपी ने इस मामले की जांच के लिए एक स्पेशल टीम गठित की थी, जिसमें खलारी के डीएसपी और खलारी एवं मैक्लुस्कीगंज थाने के इंचार्ज शामिल थे।

इस टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर अपराधियों को गिरफ्तार किया। इनसे पूछताछ में पूरी घटना का खुलासा हुआ है। इनके पास से एक पिस्टल, एक देसी कट्टा, आधा दर्जन कारतूस, दो मोटरसाइकिल सहित कई सामान जब्त किए गए हैं।

इस मामले में पुलिस ने जिन लोगों को गिरफ्तार किया है, उनमें रवि मुंडा उर्फ प्रभात, महेश उरांव, रूपेश पाहन, दिनेश उरांव और अनिस केरकेट्टा शामिल हैं।

बता दें कि करीब आठ माह पहले नक्सलियों ने मैकलुस्कीगंज में रेलवे पुल निर्माण कार्य साइडिंग पर भी हमला किया था और चार वाहनों को आग के हवाले कर दिया था।