लोन से परेशान कलेक्शन एजेंट ने बनाई थी लूट की योजना (लीड-1)

0
8

ग्रेटर नोएडा, 3 जून (आईएएनएस)। ग्रेटर नोएडा के बीटा-टू इलाके में 31 मई को दिनदहाड़े हुई लूट मामले में पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही लूटी गई रकम भी बरामद की गई है। इस लूट का मुख्य साजिशकर्ता कैश कलेक्शन एजेंट ही था।

कार-बाइक लोन और उधारी से परेशान होकर संतोष ने ही लूट की साजिश रची थी। उसने अपने रिश्तेदार और दोस्त को लूट में शामिल किया था। स्वाट टीम और बीटा-टू थाना पुलिस ने लूट की घटना का 48 घंटे में खुलासा करते हुए लूटी गई पूरी रकम, ब्रेजा गाड़ी और हथियार भी जब्त किए।

जब पुलिस एक आरोपी को रुपए की रिकवरी के लिए लेकर गई थी तो उसने बैग में रखे हथियार से पुलिस टीम पर फायर कर दिया था। पुलिस ने उसे मुठभेड़ में घायल अवस्था में गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया है कि 31 मई को बीटा-टू के साइट-4 ग्रेटर नोएडा में कैश कलेक्शन एजेंट संतोष की कार को रोककर पिस्टल दिखाकर बाइक सवार दो बदमाशों ने 9 लाख रुपए लूटे थे।

इस घटना को लेकर लेमिनेटस कंपनी के मालिक ने पुलिस में शिकायत दी थी। पुलिस ने जांच के दौरान 200 से भी ज्यादा सीसीटीवी फुटेज को चेक किया। इसके बाद चंदन, संतोष कुमार और नितेश वर्मा को गिरफ्तार कर लिया।

अभियुक्त संतोष कुमार ने पुलिस को बताया कि उस पर कार-बाइक का लोन था और कई लोगों से उधारी भी ले रखी थी। इस बात से वह काफी परेशान था। इसके बाद लूट की योजना बनाई गई। किसी को शक नहीं हो, इसलिए आरोपियों ने लूट करते वक्त हवाई फायरिंग भी की थी।