बिहार : अपराधियों को भगाने के मामले में तीन पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज करने का आदेश

0
10

गोपालगंज, 25 जून (आईएएनएस)। बिहार के गोपालगंज में जिले में तैनात तीन पुलिसकर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश वहां की पुलिस अधीक्षक ने संबंधित थाना प्रभारी को दिया है। इन तीनों में से दो पर अपराधियों को भगाने का और तीसरे पर अपनी जगह दूसरे को परीक्षा में बैठाने का आरोप है।

पुलिस अधीक्षक स्वर्ण प्रभात ने मंगलवार को बताया कि होमगार्ड जवान की गोली मारकर हत्या किये जाने के मामले में जेल में बंद कुख्यात अपराधी संजय उर्फ बनरी को पेशी के दौरान भगाने के लिए साजिश रची गयी थी। इस मामले में जांच रिपोर्ट आने के बाद सिपाही पर कार्रवाई शुरू कर दी गयी है। पुलिस अधीक्षक के आदेश पर जिला बल के हवलदार उपेंद्र पांडेय विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी गयी। जांच के दौरान इस मामले में पांडेय की संलिप्तता पायी गयी।

नगर थाना क्षेत्र के एकडेरवा गांव निवासी होमगार्ड जवान भोला यादव को घर से होमगार्ड कार्यालय थावे जाने के दौरान रास्ते में संजय उर्फ बनरी ने अपने साथियों के साथ मिलकर गोली मारकर हत्या कर दी थी। पांच जनवरी, 2021 को हुई इस हत्या के मामले में पुलिस ने संजय उर्फ बनरी को गिरफ्तार कर लिया। जेल से कोर्ट में पेशी के लिए लाये जाने के दौरान इस साल 19 जनवरी को वह फरार हो गया। मामले की जांच में जिला बल के हवलदार उपेंद्र पांडेय की संलिप्तता पायी गयी।

इसी तरह कुख्यात अपराधी व कुचायकोट थाना क्षेत्र के बेलवा गांव निवासी बंटी पांडेय के फरार होने के मामले में जिला बल के सिपाही सतीश कुमार की संलिप्तता पायी गयी। सिपाही सतीश कुमार के विरुद्ध भी प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। कुचायकोट थाने की पुलिस ने 20 फरवरी, 2023 को बंटी पांडेय को हथियार के साथ गिरफ्तार कर जेल भेजा था। पेशी के लिए जेल से कोर्ट जाने के दौरान 23 जून, 2023 को बंटी पांडेय फरार हो गया। बंटी के फरार होने के मामले की जांच करायी गयी। जांच में सिपाही की संलिप्तता सामने आयी।

इसके अलावा, राजस्व पर्षद द्वारा आयोजित सीबीटी ऑनलाइन विभागीय परीक्षा में एक मार्च को प्रथम पाली में अनिश कुमार सिंह, लिपिक ने खुद की जगह एक फर्जी परीक्षार्थी को परीक्षा कक्ष में अवैध तरीके से बैठाया। मामले की जांच में अनिश की संलिप्तता पाई गई। उक्त आरोप में लिपिक अनिश कुमार सिंह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया गया है।