दिल्ली में 30 प्रतिशत घटा प्रदूषण, 11 जुलाई से 9 अगस्त तक होगा पौधरोपण : गोपाल राय

0
11

नई दिल्ली, 2 जुलाई (आईएएनएस)। दिल्ली के पर्यावरण एवं वन मंत्री गोपाल राय का कहना है कि पिछले सालों की तुलना में दिल्ली में करीब 30 प्रतिशत तक प्रदूषण कम हुआ है। इसका कारण सुनियोजित तरीके से जारी विकास कार्य है। उनके मुताबिक पहले सर्दी के मौसम में ‘विंटर एक्शन प्लान’ तैयार किया जाता था, अब ‘समर एक्शन प्लान’ तैयार कर लिया गया है और उसी के तहत काम किया जा रहा है।

गोपाल राय के मुताबिक मौसम में हो रहे परिवर्तन का असर साफ तौर पर देखने को मिल रहा है। अगर सर्दी हो रही है तो जरुरत से ज्यादा सर्दी पड़ रही है। गर्मी है तो भीषण गर्मी हो रही है और अगर बारिश हुई है तो लग रहा है कि बादल फटने की घटना हो गई है। मौसम बदलने का असर अब देखने को मिलने लगा है। अब प्रकृति का ‘अलॉर्म स्टेज’ आ गया है। अगर अभी भी चीजों को सही ढंग से नहीं किया गया तो परिणाम गंभीर होंगे। इसीलिए, दिल्ली सरकार लगातार हरित क्षेत्र को बढ़ाने का काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि आज से 4.5 साल पहले अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से वादा किया था कि 5 साल के अंदर 2 करोड़ से ज्यादा पौधे लगाए जाएंगे। यह बताते हुए काफी खुशी हो रही है कि दिल्ली के अलग-अलग एनजीओ और संस्थाओं के साथ मिलकर चार साल में ही 2 करोड़ से ज्यादा पौधे लगाए गए हैं। दिल्ली सरकार ने यह महसूस किया है कि अभी इस अभियान को और भी बढ़ाने की जरूरत है। इसीलिए कुछ दिनों पहले हमने अलग-अलग संस्थाओं और अधिकारियों के साथ बैठक की थी और यह फैसला लिया था कि 64 लाख पौधे और लगाए जाएंगे।

गोपाल राय ने बताया कि इस अभियान के तहत 7 लाख पौधे निशुल्क बांटे जाएंगे। उन्होंने दिल्ली की जनता से अपील की है कि सरकार निशुल्क पौधे दे रही है। जनता की सहभागिता भी बहुत जरूरी है इसीलिए जनता से यह अपील की जा रही है कि वह इस अभियान में साथ दे और छोटे-छोटे पौधों को अपने घरों, अपनी बालकनी में लगाकर उनका संरक्षण करें ताकि आने वाले दिनों में सभी को फायदा हो।

उन्होंने बताया कि 11 जुलाई से दिल्ली में पौधरोपण अभियान की शुरुआत होगी। यह शुरुआत नरेला इलाके से की जाएगी। यह पहले चरण का अभियान है, जिसमें पौधरोपण और पौध वितरण का कार्यक्रम होगा। यह अभियान 11 जुलाई से 9 अगस्त तक चलेगा। इस अभियान के तहत दिल्ली की विधानसभाओं में पौधरोपण और पौध वितरण का कार्यक्रम किया जाएगा। 11 जुलाई को सबसे पहले नरेला और बवाना में अभियान की शुरुआत होगी। हर दिन दो जगह पर पौधरोपण और पौध वितरण का कार्यक्रम होगा। ऐसे ही पूरी दिल्ली को 9 अगस्त तक कवर किया जाएगा।