लोकसभा चुनाव में एनडीए होगी 400 पार और भाजपा अकेले जीतेगी 370 सीट : पीएम मोदी

0
20

नई दिल्ली, 5 फरवरी (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगामी लोकसभा चुनाव में तीसरी बार भाजपा की बड़ी जीत का दावा करते हुए कहा कि देश का मिजाज देखकर लग रहा है कि इस बार एनडीए गठबंधन को 400 से ज्यादा सीटें मिलेगी और भाजपा को 370 सीटों पर जीत हासिल होगी।

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर लोकसभा में हुई चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने जब कहा कि अबकी बार… तो, सत्ता पक्ष की तरफ से जवाब आया 400 पार।

उन्होंने कहा कि देश कह रहा है कि फिर सत्ता पक्ष की तरफ से जवाब आया 400 पार। इसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा राज्यसभा में दिए गए बयान का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अब तो खड़गे भी कह रहे हैं अबकी बार और फिर सत्ता पक्ष की तरफ से जवाब आया 400 पार। अपना भाषण जारी रखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा हमारी सरकार के तीसरे कार्यकाल के दिन दूर नहीं हैं। केवल 100-125 दिन बचे हुए हैं। अबकी बार, 400 पार।

उन्होंने कहा कि देश का मिजाज देखकर लग रहा है कि इस बार एनडीए गठबंधन को 400 से ज्यादा सीटें मिलेगी और भाजपा को निश्चित तौर पर 370 सीटें मिलेंगी।

प्रधानमंत्री ने अपनी सरकार के 10 वर्षों के कामकाज और उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि हमने अपने पहले कार्यकाल में यूपीए सरकार के समय के जो गड्ढे थे, उन गड्ढों को भरने में काफी समय और शक्ति लगाई और दूसरे कार्यकाल में नए भारत की नींव रखी और अब तीसरे कार्यकाल में हम विकसित भारत के निर्माण को नई गति देंगे।

उन्होंने कहा कि आज भारत की मजबूत अर्थव्यवस्था को दुनिया सराह रही है। पूरी दुनिया प्रभावित है। आज की मजबूत अर्थव्यवस्था को देखते हुए, हमने कहा है कि हमारे तीसरे टर्म में भारत, दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी आर्थिक ताकत बनेगा और ये मोदी की गारंटी है।

अयोध्या में बने भगवान राम के भव्य मंदिर का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भगवान राम न सिर्फ अपने घर लौटे, बल्कि एक ऐसे मंदिर का निर्माण हुआ, जो भारत की महान संस्कृति-परंपरा को नई ऊर्जा देता रहेगा।

नेहरू गांधी परिवार और कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस की जो मानसिकता है, उसके कारण देश को बहुत नुकसान हुआ है। कांग्रेस ने देश के सामर्थ्य पर कभी विश्वास नहीं किया, वो अपने आप को शासक मानते रहे और जनता-जनार्दन को कमतर आंकते गए। 15 अगस्त को लाल किले से प्रधानमंत्री नेहरू ने ​कहा था कि हिंदुस्तान में लोगों को काफी मेहनत करने की आदत आमतौर पर नहीं है, हम इतना काम नहीं करते जितना यूरोप, जापान, चीन, रुस और अमेरिका वाले करते हैं। यह न समझिए कि वो कौमें कोई जादू से खुशहाल हो गईं, वो मेहनत से और अक्ल से हुई हैं। नेहरू उनकी तारीफ कर रहे थे और भारतीयों को नीचा दिखा रहे थे। नेहरू सोचते थे कि भारतीय आलसी और कम अक्ल के होते हैं।

उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी की सोच भी नेहरू से ज्यादा अलग नहीं थी। उन्होंने लाल किले से कहा था, दुर्भाग्यवश हमारी आदत ये है कि जब कोई शुभ काम पूरा होने को होता है तो हम आत्मसंतुष्टि की भावना से ग्रस्त हो जाते हैं और जब कोई कठिनाई आ जाती है तो हम नाउम्मीद हो जाते हैं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस का विश्वास हमेशा एक परिवार पर रहा है। एक परिवार के आगे न कुछ सोच सकते हैं और न ही कुछ देख सकते हैं।

–आईएएनएस

एसटीपी/एबीएम