आंध्र प्रदेश: नाबालिग लड़की की हत्या के आरोपी ने की आत्महत्या

0
8

विशाखापट्टनम, 11 जुलाई (आईएएनएस)। आंध्र प्रदेश के अनाकापल्ले जिले में नाबालिग लड़की की हत्या के आरोपी ने कथित तौर पर आत्महत्या कर ली है।

पुलिस चार दिन से आरोपी सुरेश की तलाश में थी। तहकीकात के दौरान ही रामबिल्ली मंडल के कोप्पीगोंडापलेम गांव के बाहरी इलाके में आरोपी का क्षत-विक्षत शव मिला। पुलिस को शक है कि आरोपी ने जहर खाकर आत्महत्या की। उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए अनाकापल्ले के सरकारी अस्पताल में भेज दिया गया है।

आरोप है कि सुरेश (26) ने 6 जुलाई को कोप्पिगोंडापलेम गांव में कक्षा 9 में पढ़ने वाली 14 वर्षीय नाबालिग लड़की की चाकू घोंपकर हत्या कर दी थी। पुलिस ने फरार आरोपी के बारे में जानकारी देने वालों को 50 हजार रुपए का इनाम देने की घोषणा की थी।

रामबिल्ली मंडल के कोप्पुंगुंडुपालेम का रहने वाला सुरेश पेशे से ड्राइवर था। आरोप है कि सुरेश कथित तौर पर नाबालिग का पीछा करता था। वो लड़की को पसंद करता था और उसके बालिग होने पर उससे शादी करना चाहता था। लेकिन, लड़की के माता-पिता ने उसके प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया था। उसने लड़की को परेशान करना जारी रखा तो उसके परिजनों ने अप्रैल में सुरेश के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के खिलाफ केस दर्ज कर सुरेश को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। कुछ हफ्ते पहले जमानत पर बाहर आने के बाद, उसने पीड़िता से बदला लेने का फ़ैसला किया। सुरेश ने उसे अपनी सजा के लिए जिम्मेदार ठहराया।

जानकारी के मुताबिक, 6 जुलाई को जब पीड़िता के माता-पिता काम पर गए हुए थे, सुरेश उसके घर में घुस आया और उसका गला रेत दिया। अपराध करने के बाद वह छिप गया था। पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए 12 टीमें गठित की थीं।

सुरेश ने कथित तौर पर एक नोट छोड़ा था जिसमें लिखा था कि वह लड़की के साथ या तो जिएगा या मर जाएगा। आंध्र प्रदेश राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष केसली अप्पाराव और महिला आयोग की सदस्य जी. उमा ने लड़की के गांव का दौरा कर घटना की जानकारी ली थी।