बंगाल राशन घोटाला: गिरफ्तार तृणमूल नेता के भाई को फिर ईडी का समन

0
23

कोलकाता, 23 जनवरी (आईएएनएस)। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल में राशन वितरण मामले में एजेंसी द्वारा पहले ही गिरफ्तार किए गए तृणमूल कांग्रेस नेता शंकर आध्या के छोटे भाई को पूछताछ के लिए एक नया समन जारी किया।

ताजा नोटिस मलय आध्या को जारी किया गया है, जो ‘अंजलि आइसक्रीम’ नाम की आइसक्रीम निर्माण इकाई के निदेशक हैं, जिसका स्वामित्व गिरफ्तार तृणमूल कांग्रेस नेता के पास है। सूत्रों ने बताया कि ईडी के अधिकारियों को राशन वितरण मामले की आय को इस आइसक्रीम कारोबार में निवेश किए जाने के बारे में विशेष सुराग मिले हैं।

यह तीसरी बार है जब मलय आध्या को पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया गया है। पिछले दो मौकों पर उन्होंने नोटिस को नजरअंदाज कर दिया था। सूत्रों ने बताया कि अगर उन्होंने तिबारा नोटिस को नजरअंदाज किया तो ईडी के अधिकारी इस बार उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई पर विचार कर रहे हैं।

ईडी के अधिकारी गिरफ्तार तृणमूल कांग्रेस नेता की बेटी रितुपर्णा आध्या से पिछले सप्ताह कोलकाता के उत्तरी बाहरी इलाके में केंद्रीय एजेंसी के साल्ट लेक कार्यालय में लगभग छह घंटे तक पूछताछ कर चुके हैं। हालांकि, ईडी दफ्तर से बाहर आने के बाद उन्होंने मीडियाकर्मियों से बात करने से इनकार कर दिया।

आध्या परिवार के अन्य सदस्य, जो गिरफ्तार तृणमूल कांग्रेस नेता से जुड़े विभिन्न व्यवसायों में निदेशक भी हैं, ईडी अधिकारियों की जांच के दायरे में हैं।

ईडी के वकील ने पहले ही धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) की एक विशेष अदालत को सूचित कर दिया है कि शंकर आध्या राशन वितरण मामले में कई करोड़ रुपये की आय को पहले विदेशी मुद्रा में परिवर्तित करने और फिर उन्हें हवाला मार्ग के माध्यम से विदेशों में – मुख्य रूप से दुबई और बांग्लादेश में – भेजने के लिए जिम्मेदार था।

ईडी के अधिकारी इस सिलसिले में कोलकाता में विदेशी मुद्रा लेनदेन एजेंसियों के कई कार्यालयों पर पहले ही छापेमारी कर चुके हैं। केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों ने शंकर आध्या के निजी चार्टर्ड अकाउंटेंट के कार्यालय पर भी छापेमारी और तलाशी अभियान चलाया।

–आईएएनएस

एकेजे/