गलत सूचना के खिलाफ अभियान : केरल में भाजपा उम्‍मीदवार चंद्रशेखर ने कांग्रेस के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई

0
14

तिरुवनंतपुरम, 4 अप्रैल (आईएएनएस)। तिरुवनंतपुरम लोकसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार राजीव चंद्रशेखर ने एक कांग्रेस नेता पर गलत सूचना फैलाने और कथित तौर पर आपराधिक साजिशों में शामिल होने का आरोप लगाते हुए गुरुवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने नेता पर केंद्रीय मंत्री प्रतिमा भौमिक के साथ वाली उनकी पुरानी तस्वीर से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया।

दिल्ली पुलिस के समक्ष दायर अपनी शिकायत में चंद्रशेखर ने कहा कि तिरुवनंतपुरम जिला कांग्रेस समिति के सदस्य और अखिल भारतीय मछुआरा कांग्रेस की राष्ट्रीय कार्यकारी समिति के सदस्य जे. मोसेस जोसेफ डक्रूज़ ने प्रतिमा भौमिक की छवि को सीपीआई (एम) नेता ई.पी. जयराजन की पत्‍नी पी.के. इंदिरा के चेहरे के साथ बदल दिया।

बाद में इसे फेसबुक और व्हाट्सएप समेत विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रसारित किया गया।

तस्वीर के साथ दिए गए कैप्शन में इंदिरा, चंद्रशेखर और जयराजन के बीच पेशेवर और व्यावसायिक संबंध का झूठा दावा किया गया है।

संयोग से, पिछले महीने चंद्रशेखर और जयराजन के बीच व्यापारिक समझौते का मुद्दा चर्चा में था और कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि यह केरल में भाजपा और सीपीआई (एम) के बीच गुप्त समझौते का एक और उदाहरण है।

चंद्रशेखर ने अपनी शिकायत में आगे कहा कि जनता को धोखा देने और भ्रामक जानकारी के जरिए सहानुभूति बटोरने के मकसद से इस हेराफेरी को अंजाम दिया गया।

चंद्रशेखर ने कहा, “यह कृत्य सोशल मीडिया पर झूठी और तुच्छ सामग्री प्रसारित करने, आपराधिक साजिश और गलत सूचना अभियानों के जरिए व्यक्तिगत और राजनीतिक, दोनों एजेंडे को आगे बढ़ाने का एक जानबूझकर किया गया प्रयास था।”

केरल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी संजय कौल और अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी और आदर्श आचार संहिता के प्रभारी नोडल अधिकारी आदिला अब्दुल्ला के समक्ष दायर एक अन्य मामले में उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने एक अपमानजनक वीडियो प्रसारित किया था (केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आधिकारिक हैंडल से पहली बार एक्स पर प्रसारित हुआ था) और उसने इस आधार पर निराधार आरोप लगाया कि उन्होंने अपने राज्यसभा चुनाव के समय चुनाव आयोग के समक्ष संपत्ति के बारे में गलत हलफनामा पेश किया था।