फिनटेक स्टार्टअप सिंपल ने 30 कर्मचारियों को निकाला

0
9

नई दिल्ली, 6 जून (आईएएनएस)। फिनटेक स्टार्टअप सिंपल ने छंटनी के एक और दौर के तहत गुरुवार को विभिन्न विभागों के 30 कर्मचारियों को निकालने की घोषणा की।

कंपनी ने बताया कि छंटनी का उद्देश्य “पूरे संगठन को वित्तीय रूप से मजबूत बनाना और 2025 के मध्य तक मुनाफा कमाने की स्थिति में आना” है।

सिंपल के संचार विभाग के प्रमुख आशीष कुलश्रेष्ठ ने आईएएनएस को एक बयान में बताया, “एक संगठन के रूप में हम दक्षता बढ़ाने और सतत विकास के लिए ज्यादा लीन संगठन तैयार करने के लिए नियमित तौर पर अपने कारोबार की समीक्षा करते हैं।”

उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में “हमने अपने कारोबार का कई गुना विस्तार किया है और इस विकास को आगे भी जारी रखने के लिए हम अपनी परिचालन दक्षता को बढ़ाने के लिए कई तरह के उपाय कर रहे हैं”।

जिन कर्मचारियों को निकाला गया है, उन्हें दो महीने के नोटिस पीरियड के बदले वेतन और कंपनी को दी गई सेवा के हर साल के लिए 15 दिन का वेतन दिया जाएगा।

फिनटेक कंपनी ने पिछले महीने भी 100 कर्मचारियों को निकाला था। पिछले साल कंपनी ने 120-150 कर्मचारियों की छंटनी की थी।

वित्त वर्ष 2022-23 में सिंपल का घाटा 147 प्रतिशत बढ़कर 356.6 करोड़ रुपये पर पहुंच गया जबकि परिचालन राजस्व 176 फीसदी बढ़कर 87.3 करोड़ रुपये हो गया।

वर्ष 2016 में स्थापित सिंपल के प्लेटफॉर्म पर जोमैटो, मेकमाईट्रिप, बिग बास्केट, 1एमजी और क्रॉक्स जैसे 26 हजार मर्चेंट हैं।