मणिपुर पुलिस के 4 जवानों का अपहरण और मारपीट, 2 आरोपी गिरफ्तार

0
10

इंफाल, 13 मई (आईएएनएस)। मणिपुर पुलिस ने रविवार को आदिवासी बहुल कांगपोकपी पुलिस स्टेशन में तैनात चार पुलिसकर्मियों के अपहरण और उन पर हमला करने के आरोप में कट्टरपंथी मैतेई संगठन ‘अरामबाई तेंगगोल’ से जुड़े दो लोगों को गिरफ्तार किया। यह जानकारी अधिकारियों ने दी।

पुलिस ने कहा कि चार पुलिसकर्मियों का शनिवार रात इंफाल पूर्वी जिले के कोइरेन्गेई में राष्ट्रीय राजमार्ग-2 पर अपहरण कर लिया गया, जब वे इंफाल से कांगपोकपी जा रहे थे।

इंफाल में एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि 25 वर्षीय तैबंगनबा सनौजम और 40 वर्षीय मोइरांगथेम बोबो को रविवार को गिरफ्तार किया गया। अपहृत पुलिसकर्मियों को बचाने और घटना में शामिल अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए तलाशी अभियान जारी है।

अपहृत पुलिसकर्मियों की पहचान राम बहादुर कार्की, रमेश बुधाथोकी, मनोज खातीवोडा और मोहम्मद ताज खान के रूप में की गई।

प्रमुख आदिवासी संगठन कमेटी ऑन ट्राइबल यूनिटी (सीओटीयू) ने चार पुलिसकर्मियों के अपहरण और क्रूर हमले पर आक्रोश प्रकट करने के लिए रविवार को पूरे कांगपोकपी जिले में 24 घंटे का पूर्ण बंद रखा। रविवार आधी रात तक पूर्ण बंदी जारी रही।

सीओटीयू मीडिया सेल के समन्वयक एनजी लुन किपगेन ने कहा कि कोइरेन्गेई में कांगपोकपी पुलिस के पुलिसकर्मियों पर बेरहमी से हमला किया गया।

9 मई को मणिपुर पुलिस ने स्थानीय लोगों के सहयोग से सीआरपीएफ के सहायक उप-निरीक्षक, लेन्सैट सितलहोउ को इंफाल पश्चिम जिले से हथियारबंद लोगों द्वारा अपहरण किए जाने के कुछ घंटों बाद छुड़ा लिया। कथित तौर पर अपहरणकर्ताओं ने एएसआई पर भी हमला किया था।