हूती ने लाल सागर में दो वाणिज्यिक जहाजों पर हमलों की जिम्मेदारी ली

0
6

सना, 8 जून (आईएएनएस)। यमन के हूती समूह ने लाल सागर में दो वाणिज्यिक जहाजों पर मिसाइल और ड्रोन हमलों की जिम्मेदारी ली है।

समाचार एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार, हूती के सैन्य प्रवक्ता याह्या सरिया ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि हमलों ने उन कंपनियों के दो जहाजों को निशाना बनाया, जिन्होंने इजरायली बंदरगाहों में प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने के हूती के फरमान का उल्लंघन किया था। उन्होंने जहाजों की पहचान एल्बेला और एएएल जेनोआ के रूप में की।

हूती द्वारा संचालित अल-मसीरा टीवी पर प्रसारित बयान में सरिया ने कहा कि हमले में “कई ड्रोन, बैलिस्टिक और नौसैनिक मिसाइलों का इस्तेमाल किया गया था, और निशाना सटीक था”। उन्होंने अपना प्रण दोहराया कि जब तक “इजरायल गाजा पर हमले बंद नहीं कर देता, तब तक हूती इस तरह के और हमले करेंगे।”

इससे पहले अल-मसीरा टीवी ने बताया था कि “अमेरिका-ब्रिटेन गठबंधन ने राजधानी सना और बंदरगाह शहर होदेइदाह पर कई हवाई हमले किए”।

स्थानीय निवासियों के अनुसार, हवाई हमलों ने दोनों शहरों में हूती सैन्य ठिकानों को निशाना बनाया।

हूती समूह ने पिछले साल नवंबर से गाजा पट्टी में फिलिस्तीनियों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए लाल सागर से गुजरने वाले इजरायल से जुड़े जहाजों को निशाना बनाकर एंटी-शिप बैलिस्टिक मिसाइलों और ड्रोनों से हमले किये हैं।