हैदराबाद की छात्रा अमेरिका के कैलिफोर्निया से लापता, पुलिस ने मांगी जनता से मदद

0
11

हैदराबाद, 3 जून (आईएएनएस)। अमेरिका के कैलिफोर्निया राज्य से हैदराबाद की 23 वर्षीय भारतीय छात्रा के लापता होने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि यह छात्रा 28 मई से गुमशुदा है। पुलिस ने छात्रा का पता लगाने के लिए जनता से मदद मांगी है।

कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी, सैन बर्नार्डिनो (सीएसयूएसबी) की छात्रा नितीशा कंडुला को आखिरी बार 28 मई को लॉस एंजेलिस में देखा गया था।

सीएसयूएसबी के पुलिस प्रमुख जॉन गुटिएरेज ने अपनी सोशल मीडिया पोस्‍ट में 30 मई को लॉस एंजेलिस पुलिस विभाग (एलएपीडी) के दक्षिण-पश्चिम डिवीजन से उसकी गुमशुदगी की सूचना दी थी।

पुलिस प्रमुख ने पोस्ट में कहा, “कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी, सैन बर्नार्डिनो पुलिस और एलएपीडी में हमारे सहयोगी नितीशा कंडुला के बारे में कोई भी जानकारी मिलने पर हमसे (909) 537-5165 पर संपर्क कर सकते हैंं।”

लापता छात्रा का कद 5 फीट 6 इंच बताया गया है। उसका वजन लगभग 160 पाउंड है और उसके बाल और आंखें काली हैं। पुलिस ने कहा है कि वह 2021 मॉडल की टोयोटा कोरोला लेकर निकली थी।

इसमें कहा गया है, “यदि किसी एजेंसी या व्यक्ति के पास लापता व्यक्ति के बारे में जानकारी है तो कृपया एलएपीडी साउथवेस्ट डिवीजन से 213-485-2582 पर या सीएसयूएसबी पुलिस विभाग से 909-537-7777 पर संपर्क कर सकते हैं।”

अमेरिका में इस तरह का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी छात्रों की गुमशुदगी की खबरें सामने आ चुकी हैं। पिछले महीने विस्कॉन्सिन सिटी के कॉनकॉर्डिया विश्वविद्यालय से मास्टर डिग्री की पढ़ाई कर रहा तेलंगाना का एक छात्र लापता हो गया था।

शिकागो में भारतीय वाणिज्य दूतावास ने घोषणा की थी कि रूपेश चंद्र चिंताकिंडी 2 मई से संपर्क में नहीं है। वारंगल जिले के छात्र का पता लगाया गया है या नहीं, इस पर कोई जानकारी सामने नहीं आई।

वहीं, 2019 में न्यू जर्सी से 29 साल की भारतीय छात्रा मयूशी भगत भी लापता हो गई थी। छात्रा की आज तक कोई खबर नहीं है।

साथ ही, 7 मार्च से लापता हैदराबाद के एक छात्र का शव अप्रैल में अमेरिका के क्लीवलैंड शहर से बरामद किया गया। ओहायो के क्लीवलैंड विश्वविद्यालय में सूचना प्रौद्योगिकी में मास्टर डिग्री की पढ़ाई कर रहे मोहम्मद अब्दुल अरफाथ 7 मार्च से परिवार के संपर्क में नहीं थे वहीं, उनके परिवार को फिरौती के लिए कॉल आया था।