सीएम ममता ने प्रदर्शनकारी किसानों पर पुलिस कार्रवाई को लेकर केंद्र पर कटाक्ष किया

0
11

कोलकाता, 13 फरवरी (आईएएनएस)। पंजाब-हरियाणा शंभू सीमा पर प्रदर्शनकारी किसानों को तितर-बितर करने और उन्हें दिल्ली में प्रवेश से रोकने के लिए पुलिस ने मंगलवार को आंसू गैस के गोले दागे। इस कार्रवाई पर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर कटाक्ष किया है।

सीएम ममता बनर्जी ने ऐसे समय पर कटाक्ष किया है, जब उनकी सरकार और पार्टी के फरार नेता शेख शाहजहां और उनके करीबी सहयोगियों द्वारा जबरन जमीन हड़पने और महिलाओं के यौन उत्पीड़न के आरोप के बाद संदेशखाली में हुए घटनाक्रम को लेकर दबाव में है।

सीएम ममता बनर्जी ने अपने एक्स अकाउंट से पोस्ट किया, ”जब किसानों पर उनके बुनियादी अधिकारों के लिए लड़ने पर आंसू गैस के गोलों से हमला किया जाएगा तो हमारा देश कैसे प्रगति कर सकता है? मैं भाजपा द्वारा हमारे किसानों पर किए गए क्रूर हमले की कड़ी निंदा करती हूं।”

सीएम के मुताबिक, किसानों और मजदूरों का समर्थन करने में विफलता से जनसंपर्क स्टंट के माध्यम से ‘विकसित भारत का भ्रम’ पैदा करने की केंद्र सरकार की कोशिशें उजागर हो गई हैं।

सीएम ममता ने आगे कहा, ”किसानों के विरोध को दबाने के बजाय भाजपा को अपने बढ़े हुए अहंकार, सत्ता की भूखी महत्वाकांक्षाओं और अपर्याप्त शासन को कम करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, जिसने हमारे देश को नुकसान पहुंचाया है।”

सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि याद रखें ये किसान ही हैं, जो हम सभी का भरण-पोषण करते हैं। आइए सरकार की क्रूरता के खिलाफ अपने किसानों के साथ एकजुटता से खड़े हों।