माइक्रोसॉफ्ट छोटे और सस्ते जेनएआई मॉडल पर कर रहा काम

0
49

सैन फ्रांसिस्को, 24 जनवरी (आईएएनएस)। माइक्रोसॉफ्ट कथित तौर पर एआई मार्केट में ज्यादा अवसरों का लाभ उठाने के लिए सस्ते, छोटे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) मॉडल पर काम कर रहा है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि नई जेनरेटिव एआई टीम स्मॉलर लैंग्वेज मॉडल (एसएलएम) डेवलप करने पर फोकस करेगी जो ओपनएआई के जीपीटी -4 जैसे एलएलएम के समान है लेकिन कम कंप्यूटिंग पावर का उपयोग करता है।

रिपोर्ट में आगे कहा गया, “माइक्रोसॉफ्ट आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को दोगुना कर रहा है जो ओपनएआई की तुलना में छोटी और चलाने में सस्ती है।”

रिपोर्ट में सूत्रों का हवाला देते हुए कहा गया है कि टेक जायंट ने कन्वर्सेशनल एआई डेवलप करने के लिए एक नई टीम बनाई है, जिसके लिए ओपनएआई के सॉफ्टवेयर की तुलना में कम कंप्यूटिंग पावर की आवश्यकता होती है।

नई जेनएआई टीम का नेतृत्व कथित तौर पर माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेट वाइस-प्रेजिडेंट मिशा बिलेंको द्वारा किया जाएगा, और यह एज्योर क्लाउड यूनिट का हिस्सा होगा।

कंपनी ने कई वरिष्ठ एआई डेवलपर्स को अपने रिसर्च ग्रुप से नई जेनएआई टीम में स्थानांतरित कर दिया है। इस बीच, ओपनएआई ने इस महीने एक जीपीटी स्टोर लॉन्च किया, जहां इसके प्रीमियम प्लान पर यूजर कंपनी के एलएलएम के आधार पर कस्टमाइज एआई मॉडल बेच और साझा कर सकते हैं।

जीपीटी स्टोर तक पहुंचने के लिए, यूजर्स को ओपनएआई की प्रीमियम चैटजीपीटी प्लान में से एक चैटजीपीटी प्लस, चैटजीपीटी एंटरप्राइज़ या नई लॉन्च की गई चैटजीपीटी टीम का सब्सक्रिप्शन लेना होगा।

सैम ऑल्टमैन द्वारा संचालित कंपनी ने यह भी घोषणा की कि वह साल की पहली तिमाही में जीपीटी क्रिएटर्स के साथ एक रेवेन्यू शेयरिंग प्रोग्राम शुरू करेगी। चैटजीपीटी टीम की वार्षिक बिलिंग के लिए प्रति यूजर 25 डॉलर प्रति माह या मासिक बिलिंग के लिए 30 डॉलर प्रति माह है।

चैटजीपीटी टीम को 150 से ज्यादा लोगों वाली टीमों के लिए लक्षित किया गया है और यह चैटजीपीटी एंटरप्राइज में पाए जाने वाले कई फीचर्स प्रदान करती है, जिसमें जीपीटी-4 और डेल-ई 3 तक पहुंच और कस्टम जीपीटी बनाने की क्षमता शामिल है।

–आईएएनएस

पीके/एसकेपी