पाकिस्तान में जन्मा बांग्लादेशी नागरिक त्रिपुरा में भारतीय दस्तावेज के साथ गिरफ्तार

0
7

अगरतला, 19 अप्रैल (आईएएनएस)। त्रिपुरा में एक 25 वर्षीय व्यक्ति को उस समय गिरफ्तार किया गया जब वह अवैध रूप से सीमा पार कर बांग्लादेश जाने की कोशिश कर रहा था। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि उस व्यक्ति ने खुद के पाकिस्तान में जन्मे बांग्लादेशी नागरिक होने का दावा किया है जो भारत में कई जगहों की यात्रा कर चुका है।

अधिकारी ने कहा कि अयान आलम नाम के युवक को गुरुवार रात दक्षिण त्रिपुरा जिले के जलेफा में सीमावर्ती ग्रामीणों ने पकड़ा और बाद में पुलिस को सौंप दिया गया।

आलम के कब्जे से एक मोबाइल फोन, कुछ हजार रुपये और आधार कार्ड सहित कुछ भारतीय दस्तावेज बरामद किए गए हैं। अधिकारी ने मीडिया को बताया कि उसके कबूलनामे की सच्चाई और उसके पाकिस्तान कनेक्शन की पुष्टि के लिए दस्तावेजों की जांच की जा रही है।

अधिकारी ने कहा, “पूछताछ के दौरान, बंदी ने कहा कि वह पाकिस्तान में जन्मा बांग्लादेशी नागरिक है। गहन पूछताछ से पता चला कि वह बांग्लादेश के ब्राह्मणबारिया जिले के मायारामपुर गांव का रहने वाला है।”

आलम ने कबूल किया कि उसके माता-पिता 25 साल पहले बांग्लादेश से पाकिस्तान चले गए थे और उसका जन्म पाकिस्तान में हुआ था। अधिकारी ने युवक का हवाला देते हुए कहा कि वैध दस्तावेजों की अनुपलब्धता के कारण पाकिस्तानी अधिकारियों ने उसके परिवार के खिलाफ कार्रवाई की थी और अयान के पिता 2011 में उसके साथ बांग्लादेश लौट आए। हालांकि, उसकी मां, चार भाई और चार बहनें पाकिस्तान में ही रुक गईं।

अधिकारी ने कहा कि पूछताछ के दौरान, अयान ने यह भी कबूल किया कि वह 2014 में बांग्लादेश से (पश्चिम बंगाल सीमा के माध्यम से) अवैध रूप से भारत में दाखिल हुआ और फिर केरल चला गया, जहां उसने दिल्ली जाने से पहले दो साल तक एक कंपनी के लिए काम किया।

युवक ने दावा किया कि हाल ही में वह कश्मीर गया था और पाकिस्तान में घुसने की असफल कोशिश की थी। इसके बाद वह राष्ट्रीय राजधानी लौट आया जहां दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने 15 मार्च को उसे हिरासत में ले लिया।

उसने पुलिस को बताया कि कई सप्ताह की पूछताछ के बाद उसे अगरतला के लिए ट्रेन में भेज दिया गया और वह 18 अप्रैल को त्रिपुरा पहुंचा।

उसके खिलाफ स्थानीय थाने में मामला दर्ज कराया गया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि आलम एक बांग्लादेशी नागरिक है और उसकी मां, जो पाकिस्तान में है, ही उसका एकमात्र ज्ञात पाकिस्तानी लिंक है।

अधिकारी ने कहा, “लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भारत-बांग्लादेश सीमा पर भारी सुरक्षा के बावजूद भारतीय क्षेत्र में आलम की मौजूदगी और किसी गैर-कानूनी संगठन या संगठन के साथ उसकी संलिप्तता के किसी भी संभावित पहलू की जांच की जा रही है।”