वोटरों को बांटने के लिए सामान का गोदाम मिलने के बाद टीडीपी का वाईएसआरसीपी पर हमला

0
8

तिरूपति, 27 मार्च (आईएएनएस)। तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) ने भारत के चुनाव आयोग से सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की और फ्री में दिए जा रहे सामानों को जब्त करने को कहा।

श्रीकालहस्ती विधानसभा क्षेत्र के एक गोदाम में कलाई घड़ियां, डमी ईवीएम, छाते, ग्राइंडर, कुकर, स्पीकर, सेल फोन कवर जैसे सामान मिले हैं। इन पर मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी और वाईएसआरसीपी के चुनाव चिन्ह की तस्वीरें थीं।

टीडीपी ने कहा कि वाईएसआरसीपी से संबंधित बड़ी मात्रा में सामान का पता चला है, जिन्हें सत्तारूढ़ पार्टी के पक्ष में मतदाताओं को लुभाने के लिए अवैध रूप से खरीदा और जमा किया गया था।

टीडीपी ने दावा किया गया कि उसके नेताओं के आठ घंटे तक विरोध प्रदर्शन के बाद चुनाव आयोग के अधिकारियों ने पुराने एफसीआई गोदाम का निरीक्षण किया।

टीडीपी महासचिव वर्ला रमैया ने मुख्य चुनाव आयुक्त को अपनी शिकायत में कर्तव्यों में कथित लापरवाही के लिए जिला कलेक्टर, जिला पुलिस अधीक्षक और स्थानीय रिटर्निंग अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

टीडीपी महासचिव ने मतदाताओं को लुभाने के प्रयासों के लिए वाईएसआरसीपी के चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों और नेताओं के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की।

श्रीकालहस्ती विधानसभा क्षेत्र से टीडीपी उम्मीदवार बी. सुधीर रेड्डी ने दावा किया कि सीलबंद सामग्री वाले तीन और गोदाम हैं।

उन्होंने कहा, “हमारा मानना है कि इन सामग्रियों में नकदी हो सकती है। हमारी मांग है कि चुनाव आयोग के अधिकारी बक्सों को हमारे सामने खुलवाएं। हमने राजस्व मंडल कार्यालय को सूचित किया है, लेकिन उनकी ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।”

इस बीच, टीडीपी महासचिव नारा लोकेश ने कहा है कि जगन मोहन रेड्डी हर घर में एक किलोग्राम गोल्ड भी देंगे तो भी उनकी हार निश्चित है।