दिल्ली के कालकाजी मंदिर परिसर में मंच गिरने की घटना के सिलसिले में दो गिरफ्तार

0
27

नई दिल्ली, 30 जनवरी (आईएएनएस)। दिल्ली के कालकाजी मंदिर में एक जागरण में श्रद्धालुओं के बैठने के लिए बना मंच गिरने से 45 वर्षीय एक महिला की मौत और 17 अन्य के घायल होने के दो दिन बाद पुलिस ने मंगलवार को कार्यक्रम के दो आयोजकों को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपियों की पहचान तुगलकाबाद एक्सटेंशन निवासी सतीश कुमार (38) और कालकाजी के अनुज मित्तल (43) के रूप में हुई है।

पुलिस के मुताबिक, पिछले 26 सालों से चली आ रही परंपरा माता जागरण का आयोजन 27 जनवरी को महंत परिषर, कालकाजी मंदिर में किया गया था।

पुलिस उपायुक्त (दक्षिणपूर्व) राजेश देव ने कहा, “कार्यक्रम आयोजित करने की कोई अनुमति नहीं दी गई थी। हालांकि, कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए पर्याप्त कर्मचारी तैनात किए गए थे। रविवार को लगभग 12.30 बजे लगभग 1,500-1,600 लोग एकत्र हुए थे।”

आयोजकों और वीआईपी परिवारों के लिए मुख्य मंच के पास लकड़ी और लोहे के फ्रेम से निर्मित एक ऊंचा मंच बनाया गया था।

डीसीपी ने कहा, “लगभग 12.30 बजे मंच टूट गया, क्योंकि यह उस पर बैठे/खड़े लोगों का वजन सहन नहीं कर सका। मंच के नीचे बैठे कुछ लोग भी घायल हो गए।”

सभी घायलों को एंबुलेंस से एम्स ट्रॉमा सेंटर, सफदरजंग अस्पताल और मैक्स अस्पताल ले जाया गया।

डीसीपी ने कहा, “फायर ब्रिगेड भी मौके पर पहुंच गई थी। कुल 17 लोग घायल हुए थे, जबकि एक महिला को मैक्स अस्पताल में मृत लाया गया था।”