टिल्लू ताजपुरिया गिरोह का वांछित शार्पशूटर दिल्ली में गिरफ्तार

0
19

नई दिल्ली, 24 जनवरी (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने टिल्लू ताजपुरिया गिरोह के एक वांछित शार्पशूटर को गिरफ्तार किया है। वह दिल्ली और हरियाणा क्षेत्र में विभिन्न आपराधिक मामलों में शामिल था।

आरोपी की पहचान नरेला निवासी शिवम उर्फ नितेश उर्फ भूमि (25) के रूप में हुई है। एक अधिकारी ने बताया कि अदालत की तारीखों पर पेश नहीं होने के कारण ट्रायल कोर्ट ने उसके खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था।

सूत्रों के अनुसार, शिवम जमानत पर बाहर अपने पुराने सहयोगियों और जेल में बंद कैदियों के साथ मिलकर दिल्ली-एनसीआर में नकदी डकैती करने के लिए अपना गिरोह बनाने की फिराक में था।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि इस उद्देश्य के लिए उसे गोला-बारूद के साथ-साथ हथियार भी खरीदे। उसके कब्जे से चार जिंदा कारतूस के साथ एक अत्याधुनिक पिस्तौल बरामद की गई है।

पुलिस उपायुक्त (विशेष शाखा) मनोज सी. ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर में अपराध को रोकने के लिए पुलिस की एक टीम विभिन्न आपराधिक सिंडिकेट और अपराधियों के खिलाफ लगातार काम कर रही है।

डीसीपी ने आगे कहा कि इस प्रक्रिया में टीम ने कुख्यात टिल्लू ताजपुरिया गिरोह के एक शार्पशूटर शिवम की पहचान की। 19 जनवरी को उसकी गतिविधि पर नजर रखी गई और उसे संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर के पास से पकड़ लिया गया।

जिस समय पुलिस की टीम शिवम को पकड़ने को प्रयास कर रही थी, उस समय वह पुलिस की पकड़ से दूर भागने की कोशिश करने लगा। भागने के दौरान शिवम ने लोडेड पिस्तौल निकाल ली और पुलिस टीम पर गोली चलाने की कोशिश की। हालांकि, टीम ने उसे पकड़ लिया।

2018 में जितेंद्र उर्फ गोगी और टिल्लू ताजपुरिया गिरोह के बीच लंबे समय से चले आ रहे गैंगवार के कारण दोनों पक्ष अपने गिरोह को मजबूत करने के लिए स्थानीय लड़कों/अपराधियों को लुभाने में लगा हुए थे।

डीसीपी ने कहा कि इस प्रक्रिया में मंजीत उर्फ चमरा और मोनू किडोली के माध्यम से शिवम ने टिल्लू गिरोह से हाथ मिलाया। इसी बीच गोगी गैंग के अरमान ने मंजीत से संपर्क किया और उस पर गोगी गैंग से हाथ मिलाने का दबाव डाला।

अधिकारी ने बताया कि जैसे ही मंजीत ने पाला बदलने से इनकार किया, तो अरमान और गोगी गैंग के अन्य सदस्यों ने उसे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी देनी शुरू कर दी। फिर अगस्त 2018 में मंजीत ने शिवम और मोनू किधौली के साथ मिलकर नरेला में अरमान की हत्या कर दी।

इस घटना के बाद भागते समय उन्होंने कुंडली क्षेत्र से बंदूक के दम पर एक बाइक लूट ली और हरियाणा के सोनीपत में रंगदारी के लिए एक पटवारी के घर पर फायरिंग भी की थी।

–आईएएनएस

एफजेड/एसजीके