मुंबई के वर्ली बीएमडब्ल्यू हिट एंड रन मामले में शिवसेना नेता को मिली बेल

0
15

मुंबई, 8 जुलाई (आईएएनएस)। मुंबई के वर्ली बीएमडब्ल्यू हिट एंड रन मामले में मुख्य आरोपी मिहिर शाह के पिता राजेश शाह और गिरफ्तार किए गए ड्राइवर राजऋषि राजेंद्र सिंह बिदावत को सोमवार को मुंबई के शिवडी कोर्ट में पेश किया गया। शिवडी कोर्ट के मजिस्ट्रेट ने सत्तारूढ़ शिवसेना नेता राजेश शाह को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया और फिर उन्हें जमानत दे दी, जबकि उनके ड्राइवर राजर्षि बिदावत को सोमवार को एक दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया।

दोनों को रविवार सुबह शाह के बेटे मिहिर आर. शाह से जुड़े बीएमडब्ल्यू हिट-एंड-रन मामले में गिरफ्तार किया गया था, जिसमें एक मछुआरे कावेरी पी. नखवा की मौत हो गई थी। मिहिर अभी भी फरार है और मुंबई और आसपास के जिलों में आधा दर्जन पुलिस टीमें उसकी तलाश में लगी हुई हैं।

पुलिस ने कोर्ट को बताया कि आरोपी ने अपने पिता से कई बार फोन पर बात की। आरोपी को पकड़ने के लिए टीमें गठित की गई हैं।

इस केस में कोर्ट में इस बात को लेकर भी बहस हुई कि बीएनएस सेक्शन 105 (गैर इरादतन हत्या के लिए सजा) में जमानत दी जा सकती है या नहीं। इस मामले में पुलिस ने कहा कि दुर्घटना होने के बाद मुख्य आरोपी मिहिर ने अपने पिता को फोन किया और फिर राजेश ने ड्राइवर राजऋषि और मिहिर को सीटें बदलने के लिए कहा।

बता दें कि पुणे पोर्श एक्सीडेंट मामले की तरह इस मामले में भी आरोपी के पिता ने आरोप ड्राइवर को खुद पर लेने के लिए कहा था। इस केस में मुंबई पुलिस आरोपी मिहिर शाह की गर्लफ्रेंड से लगातार पूछताछ कर रही है। पुलिस को शक है कि एक्सीडेंट के बाद आरोपी मिहिर शाह अपनी गर्लफ्रेंड से मिला था और ये संभव है कि गर्लफ्रेंड ने आरोपी को भगाने में मदद की होगी।

इसके साथ ही मुंबई पुलिस की दूसरी टीम आरोपी मिहिर शाह की मां और उसकी बहन से भी लगातार पूछताछ कर रही है। बता दें इस हिट एंड रन मामले में बीएमडब्लू कार ने स्कूटी को पीछे से टक्कर मार दी। स्कूटी पर पति-पति सवार थे जिसमें पत्नी कावेरी की इलाज के दौरान मौत हो गई थी और पति प्रदीप गंभीर चोटों के बाद अस्पताल में भर्ती है।

बताया गया है कि कार को मिहिर शाह ही ड्राइव कर रहा था और संभवत उसके बराबर में ड्राइवर बैठा हुआ था। मिहिर दुर्घटना के बाद से ही मौके से फरार है और ये कार उसके पिता राजेश शाह के नाम पर पंजीकृत है। पुलिस के अनुसार मिहिर ने कार की रफ्तार काफी तेज कर रखी थी। बताया गया है कि जब कावेरी कार के बोनट पर जा गिरी तब भी मिहिर ने कार नहीं रोकी और कावेरी ऐसे ही करीब 100 मीटर लटके रहने के बाद सड़क पर जा गिरी।

कुछ दिन पहले पुणे में ही भी ऐसा ही मामला सामने आया था। तब एक नाबालिग पोर्श कार चला रहा था जिसकी टक्कर से बाइक सवार लड़के और लड़की की जान चली गई थी।