ईडी छापों की आशंका में शाहजहां ने पहले ही बनाई थी हमले की योजना : सूत्र

0
12

कोलकाता, 26 मार्च (आईएएनएस)। शेख शाहजहां को पहले ही इस बात का आभास हो चुका था कि पीडीएस मामले में जांच एजेंसी उसके यहां छापेमारी कर सकती है, इसलिए उसने संदेशखाली में ईडी और सीएपीएफ अधिकारियों पर हमला करने की योजना पहले ही बना ली थी। सीबीआई की जांच में ये खुलासा हुआ है।

सूत्रों ने बताया कि टीएमसी नेता ने अपने आवास पर ईडी और सीएपीएफ अधिकारियों पर हमले के लिए सभी तरह के हथियार संभाल कर रख लिए थे ताकि वो भीड़ में आसानी से पहुंच बनाकर जांच एजेंसियों के अधिकारियों पर हमला कर सकें।

सबसे पहला सबूत वो वीडियो है, जिसमें शाहजहां अपने सहयोगियों से यह कहता हुआ नजर आ रहा है कि अब समय आ चुका है कि हम जांच एजेंसियों के अधिकारियों को कड़ा सबक सिखाएं। यह वीडियो सीबीआई के पास है।

वहीं, दूसरा सबूत यह है कि शाहजहां के आवास के बाहर ढेर सारे ईंट रखी हुई देखी जा सकती हैं। ये ईंट जांच अधिकारियों पर हमला करने के मकसद से एकत्रित की गई थी।

जांच में खुलासा हुआ है कि इन एकत्रित ईंटों का उपयोग ईडी अधिकारियों के कार के कांच को तोड़ने के लिए किया गया। इस हमले में कई लोग घायल हो गए थे।

जांच एजेंसियों ने बताया कि इन ईंटों का निर्माण शाहजहां के भट्ठी में ही हुआ था। ईंटों पर अंकित ट्रेडमार्क के जरिए इसका खुलासा हुआ है।

सूत्रों ने बताया कि गत वर्ष दिसंबर महीने में ई़डी ने जब पहली बार शेख शाहजहां को नोटिस जारी किया था, तभी उसे इस बात का एहसास हो चुका था कि ईडी उसके आवास पर छापेमारी कर सकती है, इसलिए उसने नोटिस का अनुपलान करने के बजाय सर्च ऑपरेशन के दौरान ईडी अधिकारियों पर हमला करने की योजना बनाई।

सूत्रों ने बताया कि सीबीआई हिरासत में लिए गए सभी लोगों से पूछताछ कर रही है। इस बात की प्रबल संभावना है कि पूछताछ में जो भी खुलासा होगा, उससे गत पांच जनवरी वाली घटना को एक नई दिशा मिलेगी।