न्यूज़क्लिक विवाद : दिल्ली पुलिस ने 9,000 पन्नों से अधिक की चार्जशीट पेश की

0
9

नई दिल्ली, 30 मार्च (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शनिवार को न्यूजक्लिक के संस्थापक और प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के प्रावधानों के तहत आरोपों पर 9,000 से अधिक पन्नों की पहली चार्जशीट कोर्ट में पेश की। न्यूज पोर्टल पर आराेेप है कि उसने चीन के पक्ष में प्रोपेगेंडा फैलाने के लिए पैसे लिए।

सूत्रों के अनुसार, आरोप पत्र में जांच की प्रक्रिया में मारे गए छापों के दौरान जब्त किए गए 480 इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के बारे में भी जानकारी है।

अब कोर्ट तय करेगा कि पटियाला हाउस कोर्ट की अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश हरदीप कौर के समक्ष पेश आरोप पत्र पर संज्ञान लेना है या नहीं और कब लेना है।

सूत्रों ने बताया कि पुरकायस्थ पर देश को अस्थिर करने के लिए विदेशी फंड लेने का आरोप है।

सूत्रों ने आईएएनएस को यह भी बताया कि पुरकायस्थ की पहचान प्राथमिक संदिग्ध के रूप में की गई है, जबकि न्यूज़क्लिक के एचआर प्रमुख अमित चक्रवर्ती को सरकारी गवाह बनाया गया है। चक्रवर्ती ने सरकारी गवाह के रूप में गवाही देने की बाते करते हुए पिछले साल दिसंबर में दिल्ली की एक अदालत में आवेदन किया था।

सूत्रों ने कहा कि आरोप पत्र में कहा गया है कि पुरकायस्थ ने मनगढ़ंत कहानियां गढ़कर और 2019 के लोकसभा चुनावों को बाधित करने व देश को अस्थिर करने के लिए विदेश से धन स्वीकार किया।

सूत्रों ने बताया कि न्यूज़क्लिक पर आरोप है कि उसे विदेशों से लगभग 38 करोड़ रुपये मिले।

13 अक्टूबर, 2023 को पुरकायस्थ और चक्रवर्ती की गिरफ्तारी और रिमांड को चुनौती देने वाली याचिकाएं उच्च न्यायालय ने खारिज कर दी थीं।

स्पेशल सेल ने मामले के संबंध में 17 अगस्त, 2023 को न्यूज़क्लिक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी।